पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Panchkula's Gagan Imposes Golden Smash Against Pakistan, City Star Indian Team Wins Gold Medal In Volleyball.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पंचकूला के गगन ने लगाया पाक के खिलाफ गोल्डन स्मैश, टीम ने वॉलीबॉल में जीता गोल्ड मेडल

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गगन कुमार
  • इंडियन वॉलीबॉल टीम ने पाकिस्तान को फाइनल में 20-25, 25-15, 25-17, 29-27 से हराया
  • देवीलाल स्टेडियम के ट्रेनी गगन ने साउथ एशियन गेम्स में टीम इंडिया का प्रतिनिधित्व किया

चंडीगढ़/पंचकूला. इंडियन वॉलीबॉल टीम की शान रहे पंचकूला ने एक और स्टार प्लेयर इंडियन सीनियर टीम को दे दिया है। ताऊ देवीलाल स्टेडियम के ट्रेनी गगन कुमार ने साउथ एशियन गेम्स में टीम इंडिया का प्रतिनिधित्व किया और उसी टीम ने पाकिस्तान को हराकर गोल्ड मेडल पर कब्जा किया है। सिटी बॉय इस जीत के स्टार रहे और उन्होंने अपनी तेज स्मैश से लगातार पॉइंट्स हासिल किए।

ये भी पढ़े
प्रोग्रेसिव पंजाब इंवेस्टर समिट को लेकर तैयारियां पूरी, 5 व 6 को हाेगा आयोजन

ये पहला मौका था जब गगन को सीनियर टीम में शामिल किया गया था और उन्होंने इसे गलत साबित नहीं होने दिया। इससे पहले गगन ने अंडर-23 इंडियन टीम की ओर से एशियन चैंपियनशिप खेली थी। वहां भी गगन का प्रदर्शन बेहतरीन रहा था और तब भी भारत ने पहली बार सिल्वर मेडल देश के लिए जीता था। नेपाल में सेंटर स्ट्राइकर पोजिशन पर खेलने वाले गगन ने लगातार टीम के लिए अंक हासिल किए।


ताऊ देवी लाल एकेडमी से वॉलीबॉल की शुरुआत करने वाले गगन को स्पोर्ट्स कल्चर उनके घर से ही मिला है। उनके पिता सुभाष चंद्र हरियाणा के 400 मीटर एथलीट रहे हैं और स्पोर्ट्स कोटे में ही उन्होंने हरियाणा पुलिस जॉइन की थी। ताऊ देवी लाल स्टेडियम में गगन को ट्रेनिंग कराने वाले कोच रमेश कुमार ने कहा कि वे एक अच्छे प्लेयर तो है हीं साथ में वे सभी को अच्छा करने के लिए मोटिवेट भी करता है। गगन की गेम को प्रो-वॉलीबॉल लीग ने भी काफी बदला है।

पाक के खिलाफ किया कमबैक: भारतीय टीम ने नेपाल में कमबैक के साथ गोल्ड जीता। पाकिस्तान के खिलाफ पहले ही सेट में भारतीय टीम को 20-25 से हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद दूसरे सेट में इंडियन स्टार्स ने कमबैक किया और 25-15 के साथ जीत दर्ज कर मैच को बराबरी पर ला दिया।

हाइट के कारण शुरू की वॉलीबॉल: गगन पहले योग करते थे लेकिन जब उनकी हाइट ज्यादा हुई तो उन्होंने गेम को बदलने का फैसला किया था। गगन ने कई कंपीटिशन भी लड़े लेकिन इसके बाद उनके पिता की ट्रांसफर पंचकूला में हो गई। उनका कद लंबा था तो उन्होंने वालीबॉल खेलनी शुरू की। सैफ गेम्स से पहले वे तीन बार भारतीय टीम की ओर से खेल चुके थे। सैफ गेम्स से पहले उनका टारगेट सीनियर नेशनल टीम में जगह बनाना था। गगन की हाइट 6.5 फीट है और वे सेंटर स्ट्राइकर पोजिशन पर खेलते हैं।

स्टार प्लेयर्स के साथ करते हैं अभ्यास: अंडर-23 एशियन चैंपियनशिप में देश के लिए सिल्वर मेडल जीतने वाले गगन गगन ताऊ देवी लाल एकेडमी के साथ साथ एचएसआईआईडीसी में दिग्गजों के साथ भी अभ्यास करते हैं। पूर्व भारतीय टीम के कप्तान सूबे सिंह के साथ इंटरनेशनल प्लेयर जतिंदर सिंह, सुरजीत सिंह, दर्शन सिंह, दिनेश सिंह आदि के साथ भी गगन प्रैक्टिस करते हैं। गगन की गेम पर इन स्टार प्लेयर्स के साथ खेलने का काफी प्रभाव पड़ा और उन्होंने अपनी कई कमियों को उनके साथ खेलते हुए ही दूर किया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें