चंडीगढ़ / पुलिस के जवाब से संतुष्ट नहीं हुआ पीसीए, पूर्व डीएसपी सतीश कुमार को ठहराया दोषी, सख्त कार्रवाई करने का दिया आदेश

प्रतीकात्मक तस्वीर। प्रतीकात्मक तस्वीर।
X
प्रतीकात्मक तस्वीर।प्रतीकात्मक तस्वीर।

  • यूटी पुलिस के रिटायर्ड इंस्पेक्टर शीशा सिंह की शिकायत पर यह कार्रवाई की गई है
  • यह पीसीए चेयरमैन के अपने कार्यकाल का आखिरी आदेश था

दैनिक भास्कर

Mar 05, 2020, 01:53 PM IST

चंडीगढ़. पुलिस कम्पलेंट अथॉरिटी ने दानिप्स कैडर के पूर्व डीएसपी सतीश कुमार को दोषी ठहराया है और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया है। यूटी पुलिस के रिटायर्ड इंस्पेक्टर शीशा सिंह की शिकायत पर यह कार्रवाई की गई है। 

शिकायत के बाद भी जमीन पर किया कब्जा
डीएसपी सतीश कुमार और अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ यूटी पुलिस के पूर्व इंस्पेक्टर शीशा सिंह ने शिकायत की थी। उन्होंने कहा था कि उसने किशनगढ़ के पास कुछ जमीन खरीदी थी। जमीन की गोदाउरी इंतकाल अपने नाम पर करवा लिया था। इसके बाद उसे जमीन बेचने वाले ने किशनगढ़ के बीजेपी नेता के रिश्तेदारों को जमीन बेच दी। उसने इसकी शिकायत पुलिस स्टेशन में की। शिकायत करने के बाद भी उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। उनलोगों ने जमीन पर कब्जा कर लिया। 

पुलिस के जवाब से संतुष्ट नहीं हुआ पीसीए

सतीश कुमार तब डीएसपी ईस्ट थे। उन पर आरो‌प है कि उन्होंने जमीन पर कब्जा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की। इसके बाद पीसीए में शिकायत की गई और पुलिस को जवाब देने के लिए कहा गया। अब पीसीए ने यूटी पुलिस के जवाब से सहमत न होते हुए उन्हें दोषी करार दे दिया है।

डीएसपी सतीश कुमार अब दिल्ली वापस जा चुके हैं, इसलिए यूटी पुलिस एक्शन के लिए पीसीए के आदेश दिल्ली पुलिस को भेजेगी। यह पीसीए चेयरमैन के अपने कार्यकाल का आखिरी आदेश था। इसके साथ ही उन्होंने रिजाइन कर दिया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना