चंडीगढ़ / हाईकोर्ट के दखल के बाद पीसीए के इलेक्शन सस्पेंड, सेक्रेटरी को पेश होने के आदेश

PCA's election suspend after the intervention of High Court, orders to secretary to appear.
X
PCA's election suspend after the intervention of High Court, orders to secretary to appear.

  • पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन में ड्रामा खत्म नहीं हो रहा
  • पीसीए के इलेक्शन प्रोसेस को पूर्व क्रिकेटर राकेश हांडा ने दी कोर्ट में चुनौती

दैनिक भास्कर

Sep 04, 2019, 01:44 PM IST

मोहाली. पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन का ड्रामा खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। पीसीए स्टेडियम के गेट पर रविवार को हुए विवाद के बाद अब एसोसिएशन के इलेक्शन पोस्टपोंड हो गए हैं।

 

पीसीए के इलेक्शन पहले 8 सितंबर को होने थे लेकिन अब एसोसिएशन ने अपने बयान में कहा गया है कि अगले निर्णय तक इलेक्शन को पोस्टपोंड करने का फैसला कर लिया है।


ये फैसला तब आया जब हाईकोर्ट ने उस पिटिशन को मंजूर कर लिया जो पूर्व क्रिकेटर राकेश हांडा ने पीसीए के खिलाफ लगाई थी। हांडा पंजाब के लिए रणजी खेल चुके हैं और वे पन क्रिकेट एसोसिएशन (पीसीपीए) के सेक्रेटरी भी हैं।

 

हैरान करने वाली बात है कि जिस इलेक्टोरल ऑफिसर को इलेक्शन कराने के लिए अपॉइन्ट किया गया था, उन्हें भी इलेक्शन स्थगित किए जाने की जानकारी नहीं दी गई। उन्होंने कहा कि मुझे इस बारे में जानकारी नहीं है कि इलेक्शन स्थगित कर दिए गए हैं। न ही मुझे कोर्ट के ऑर्डर के बारे में पता है।


पिटिशन पर जस्टिस जितेंद्र चौहान ने पीसीए को 5 सितंबर के लिए नोटिस जारी किया है और साथ ही पीसीए सेक्रेटरी आरपी सिंगला को कोर्ट में पेश होने के आदेश दिए हैं।

 

उन्हें इलेक्शन प्रोसेस का पूरा रिकॉर्ड जो एनुअल जनरल मीटिंग के दौरान 18 अगस्त को बनाया गया था उसे भी कोर्ट के सामने रखना है। पीसीए राजेंद्र गुप्ता ने कोर्ट के सामने कहा कि उन्हें इलेक्टोरल आॅफिसर नियुक्त किए जाने की कोई जानकारी नहीं थी और न ही एनुअल जनरल बॉडी मीट के दौरान उनके सामने ये एजेंडा लाया गया था।


वहीं, दूसरी ओर हांडा के वकील ने कोर्ट में कहा कि इलेक्टोरल ऑफिसर ने जस्टिस लोढा कमेटी और पीसीए रुल्स की अनदेखी करते हुए इलेक्शन नोटिस जारी किया।

 

पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन के सेक्रेटरी आरपी सिंगला ने कहा अगले नोटिस तक हमने पीसीए के इलेक्शन को पोस्टपोंड कर दिया है। पीसीए जल्द ही इलेक्शन की अगली डेट फाइनल करेगा और इसका कोर्ट पिटिशन से कोई लेना देना नहीं है।

 

70 पूर्व क्रिकेटर्स पहुंचे थे पीसीए: दो दिन पहले पंजाब के 70 इंटरनेशनल और नेशनल क्रिकेटर्स पीसीए स्टेडियम मीटिंग के लिए आए थे लेकिन पीसीए अधिकारियों ने उनके लिए दरवाजे नहीं खाेले।

 

हाइवोल्टेज ड्राम के बाद पीसीए ने मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट का हवाला दिया और स्टेडियम के अंदर मीटिंग नहीं करने की बात कही। ट्राइडेंट ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और पीसीए प्रेसिडेंट राजेंद्र गुप्ता ने खुद उन सभी क्रिकेटर्स को मिलने के लिए बुलाया था। जब उन्हें मीटिंग नहीं करने दी गई तो उन्होंने पीसीए प्रेसिडेंट पोस्ट से रिजाइन करने का फैसला कर लिया था। सिंगला ने भी रिजाइन दे दिया था लेकिन वो माना नहीं गया।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना