हादसा टला / जीरकपुर में घर में लगी भीषण आग, जान पर खेल कर पंडित राम किशोर ने घर में सो रहे बच्चों की बचाई जान

पीड़ित परिवार जले हुए डॉक्यूमेंट दिखाते हुए। पीड़ित परिवार जले हुए डॉक्यूमेंट दिखाते हुए।
आग से सब कुछ जल गया आग से सब कुछ जल गया
X
पीड़ित परिवार जले हुए डॉक्यूमेंट दिखाते हुए।पीड़ित परिवार जले हुए डॉक्यूमेंट दिखाते हुए।
आग से सब कुछ जल गयाआग से सब कुछ जल गया

  • आग लगने के कारण बिशराम मौर्य की लाखों की संपत्ति जलकर खाक हो गई है
  • जब तक फायर ब्रिगेड पहुंची, तब सबकुछ जलकर राख हो चुका था

दैनिक भास्कर

Feb 22, 2020, 10:57 AM IST

जीरकपुर. एमएस एन्क्लेव स्थित शिव मंदिर के पास एक हादसा टल गया है। दरअसल शुक्रवार सुबह एक मकान में आग लग गई। जब आग लगी तब घर में दो बच्चे सो रहे थे। आग की लपटोँ को देखकर मंदिर के में पंडित राम किशोर घर में घुस गए और जान पर खेलकर बच्चों को घर से बाहर निकाला।

पंडित रामकिशोर ने बचाई बच्चों की जान

आग पूरे घर में फैल चुकी थी। शिवरात्रि होने की वजह से घर के पास मंदिर में ही काफी लोग थे। इनमें से एक पंडित राम किशोर आग में ही घर के अंदर घुसे और दोनों बच्चों को बाहर ले आए। बच्चों को बाहर लाने के बाद वे घर के अंदर रसोई गैस के दो सिलेंडर भी खींचकर बाहर ले आए। अगर राम किशोर ये हिम्मत नहीं जुटाते तो दोनों बच्चे आग के हवाले हो जाते। बच्चों की जान तो बच गई।

लाखों की संपत्ति जलकर खाक
इस आगजनी में बिशराम मौर्य की लाखों की संपत्ति जलकर खाक हो गई है। उन्होंने बताया कि एक साल से पाई-पाई जोड़कर एक लाख 60 हजार बचाए थे जो जलकर खाक हो गए। इसके साथ घर में रखे सोने और चांदी के गहने बच्चों की स्कूल बुक्स, यूनिफॉर्म, सर्टिफिकेट्स, राशन, बर्तन, बिस्तर, कपड़े तक आग में स्वाहा हो गए। 

फायर ब्रिगेड का फायदा नहीं
जब तक फायर ब्रिगेड पहुंची, तब सबकुछ जलकर राख हो चुका था। बड़ी बात तो यह है कि जीरकपुर को 5 महीने पहले दो फायर टेंडर मिले थे, लेकिन ये मुसीबत के समय काम ही नहीं आ रहे हैं। ड्राइवर और कर्मचारी भर्ती न किए जाने के लिए दोनों फायर टेंडर एमसी ऑफिस में ही खड़े हैं। आग लगने पर डेराबस्सी से फायर टेंडर बुलाए जाते हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना