हिदायतें / ग्राउंड फ्लोर पर दुकान हो तो ही मिलेगा पटाखों का परमानेंट लाइसेंस



प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • थोक आतिशबाजी विक्रेताओं के लिए हिदायतें जारी
  • आसपास कोई इमारत भी नहीं होनी चाहिए

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2019, 06:15 AM IST

मोहाली/कुराली. पटाखे बेचने को लेकर भले ही हर साल नियमों व हाईकोर्ट के निर्देश की धज्जियां उड़ती रही हों, लेकिन इस बार डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट सिर्फ लाइसेंस धारकों को ही पटाखे बेचने की परमिशन देगा। यह सुनिश्चित करने के लिए डीसी कम जिला मजिस्ट्रेट गिरीश दयालन खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं। ताकि पटाख मंडी कुराली में बटाला जैसा हादसा न हो जाए। जिला प्रशासन की ओर से परमानेंट लाइसेंस धारकों (थोक आतिशबाजी बिक्रेताओं) के लिए हिदायतें जारी की गई हैं। ताकि पटाखा बेचने वाले नियमों को पूरी तरह समझ सकें।


जिन पटाखा धारकों को टेंपरेरी लाइसेंस दिया जाना है। उनके लिए भी हिदायतें जारी की जानी हैं। उनके लिए ड्राॅ से लाइसेंस दिए जाएंगे। इस समय आवेदन का काम जोरों पर चल रहा है। पंजाब की पटाखा मंडी कुराली में जिला प्रशासन के साथ-साथ स्थानीय प्रशासन नगर परिषद भी पटाखा बेचने वालों पर नजर रखे हुए है। थोक में अवैध रूप से पटाखा बेचने वाले इन दिनों इस ताक में हैं कि छुट्टी के दिन को भुनाया जा सके। डीसी की ओर से एक महीने पहले ही साफ कर दिया गया था कि जिस व्यक्ति के पास थोक का जितना किलो का लाइसेंस है वे उतनी क्षमता तक की आतिशबाजी स्टोर कर सकेगा।


आतिशबाजी से भरा कैंटर पकड़ा
कुराली में पुलिस ने एक पटाखों से भरे कैंटर को पकड़ लिया और लाखों रुपए के अवैध पटाखे जब्त किए। पुलिस ने कैंटर चालक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस पार्टी ने गांव लखनौर के पास नाका लगाया था। इसी दौरान कैंटर नंबर पीबी 13 बी 2924 को रोक कर तालाशी ली तो उसमें से भारी मात्रा में आतिशबाजी रखी थी। कैंटर चालक इसके कागजात नहीं दिखा पाया। यह पटाखे संगरूर पहुंचाए जाने थे।


ये हिदायतें की हैं जारी...

  • फ्लोर एरिया कम से कम 9 स्क्वेयर मीटर और ज्यादा से ज्यादा 25 स्क्वेयर मीटर होना चाहिए।
  • सिर्फ उन दुकानों को ही लाइसेंस दिया जाएगा जो ग्राउंड फ्लोर पर हों और बिल्डिंग के बाकी हिस्सों से पूरी तरह हटकर हो।
  • दुकान सब लेवल या बेसमेंट में नहीं होनी चाहिए और न हीं दुकान का फ्लोर डिजाइन होना चाहिए।
  • एंट्री और एग्जिट मात्र उसी दुकान के लिए होनी चाहिए। ताकि किसी बाहर जाने में कोई परेशानी न हो।
  • इमरजेंसी डोर भी होना चाहिए। दरवाजों में स्टोपर होने चाहिए जो कि वर्किंग कंडीशन में हों।
  • दुकान के फ्रंट से रोड 12 मीटर दूर होनी चाहिए।
  • जिस दुकान में पहले से आतिशबाजी हो तसे दूसरी दुकान 15 मीटर दूर होनी चाहिए।
  • पटाखे रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक चलाने पर वैन है।
  • अस्पताल, स्कूल, एजुकेशन इंस्टिटयूट, कोर्ट, धार्मिक स्थल के 100 मीटर अंदर पटाखे चलाने पर पूर्ण रूप से वैन है।
  • थोक शॉप के पास 4 रेत से भरे बैग रखे हाेने चाहिए।
  •  शॉप के बाहर नो स्मोकिंग का बोर्ड लगाया जाना जरूरी है।
  • फायर हाइड्रेंट सुनिश्चित जगह पर होने चाहिए और पानी भी स्टोर जरूरी है।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना