पंजाब / कोर्ट में पीड़िता बोली, रेप की कोशिश की शिकायत पर पुलिस ने मारे थप्पड़



police slapped the victim on the complaint of the victim, the complaint of Rape
X
police slapped the victim on the complaint of the victim, the complaint of Rape

  • 11 दिन पहले चार मौसेरे भाइयों समेत 9 लोग अगवा कर ले गए थे अंबाला

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2019, 07:39 AM IST

संगरूर . दाे जुलाई काे चार माैसेरे भाइयाें समेत 9 लाेगाें द्वारा युवती काे अंबाला ले जाकर रेप के मामले में नया माेड़ अा गया है। युवती ने शनिवार काे काेर्ट में बयान दिया कि माैसेरे भाई ने उसके साथ रेप की काेशिश की थी। माैसेरा भाई उसके साथ शादी करना चाहता था। मजबूरी में उसने यह बात मान ली अाैर वापस लाैटने पर पुलिस काे शिकायत दी। युवती का अाराेप है कि अाराेपियाें के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय पुलिस ने उसी काे थप्पड़ मारे अाैर करंट लगाने की धमकी दी। 


पुलिस 9 जुलाई को पीड़िता के भाई के बयान पर सतवीर सिंह उर्फ रिंकू, रमन सिंह, हरिंदर सिंह, सुरिंदर सिंह निवासी बागड़ा (पटियाला), कुलवंत सिंह निवासी ताजलपुर (पटियाला), सोनी सिंह निवासी जलवेड़ा और तीन अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ अगवा करने का मामला दर्ज किया था। छह अाराेपी पकड़े गए हैं जबकि तीन फिलहाल फरार हैं।

 

पानी मांगने पर पिलाते थे नशीली काेल्ड ड्रिंक
 

शोर मचाने पर युवती को दी भाई को जान से मारने की धमकी....युवती ने बताया कि उसकी माता खेतों में धान लगाने जाती थी। घर में उसके अकेले होने के कारण मां ने उसे बुआ के घर छोड़ दिया था। ईटीटी का रोल नंबर लेने के लिए वह अपनी माैसी के लड़के के साथ कैफे पर गई थी। इस दौरान वहां दूसरी माैसी का लड़का रिंकू खड़ा था। रिंकू ने उसके साथ आए माैसी के लड़के को कहा कि वह बस स्टैंड से रमन को ले आए। इस दौरान वहां एक गाड़ी आकर रुकी, जिसमें रमन भी बैठा था। उन्होंने उसे गाड़ी में बैठा लिया और रास्ते में उसे कोल्ड ड्रिंक पिलाई। गाड़ी में उसे धमकी दी गई कि यदि शोर मचाया तो उसके भाई को जान से मार देंगे।

 

इसके बाद वह उसे अंबाला में किसी के घर ले गए जहां पर उसे नशीला कोल्ड ड्रिंक पिलाया। इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म की काेशिश की। शोर मचाने पर मारपीट कर चुप करवा दिया। अगले दिन उसे दिल्ली ले गए। जहां से उसे आंध्र प्रदेश ले गए। जब वह उनसे पानी मांगती तो उसे पानी की बजाए कोल्ड ड्रिंक दिया जाता। इसे पीने के बाद उसे हर समय नशा रहता था। माैसी का बेटा उससे शादी करना चाहता था। उसने मजबूरी में उसकी बात कबूल कर ली और बहाना बनाकर वापस घर पहुंच गई। इसके बाद पुलिस को शिकायत दी।

 

डीएसपी बोले, शिकायतकर्ता के पुलिस पर आरोप गलत... डीएसपी, भवानीगढ़ सुखराज सिंह घुम्मण ने कहा कि पुलिस पर थप्पड़ मारने और गलत व्यवहार के आरोप गलत हैं। पीड़ित लड़की के बयान लिए गए थे। पीड़िता किसी के दबाव में अपने बयान न दे इसलिए पुलिस शिकायतकर्ता पर थोड़ा दबाव डालकर पूछताछ कर सकती है। थप्पड़ मारने और करंट लगाने जैसे आरोप बिलकुल गलत हैं। कोर्ट में दिए गए बयान के अनुसार मामले की धारा में बढ़ोतरी की जाएगी। इस मामले में निष्पक्ष जांच होगी और ढीली जांच कर किसी भी आरोपी को छोड़ने का सवाल ही पैदा नहीं होता।

 

शिकायत मिलने के सात दिन बाद पुलिस ने दर्ज किया केस... युवती के मामले में सियासी पार्टियां भी अागे अाने लगी हैं। बसपा के चीफ जोन इंचार्ज चमकौर सिंह ने पुलिस पर सुस्त कार्रवाई करने का अाराेप लगाया। उन्होंने कहा कि 2 जुलाई को शिकायत मिलने पर मामला 9 जुलाई को दर्ज किया गया। महिला पुलिस ने बयान बदलने के लिए थप्पड़ मारे। पुलिस आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रही है। इस मामले में सख्त जांच कर आरोपियों पर अगर कड़ी कार्रवाई नहीं हुई तो बसपा 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना