मोहाली / बिजली का मिसयूज किया, गमाडा पर 55 लाख जुर्माना



प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • पूरब अपार्टमेंट के मीटर से कंस्ट्रक्शन कंपनी को दे रहे थे सप्लाई

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2019, 06:25 AM IST

मोहाली. बिजली सप्लाई का मिसयूज करने पर पंजाब स्टेट पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड (पावरकॉम) ने ग्रेटर मोहाली एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (गमाडा) को 55 लाख रुपए जुर्माना लगाया है। गमाडा के सेक्टर-88 स्थित पूरब अपार्टमेंट के मेन मीटर से एक प्राइवेट कंस्ट्रक्शन कंपनी को सबलिट कर सप्लाई दी जा रही थी।

 

जब पावरकॉम की ओर से चेकिंग की गई तो पाया गया कि गमाडा की ओर से अपने पूरब अपार्टमेंट के मेन मीटर से प्राइवेट कंपनी को तार डाल कर बिजली की सप्लाई दी जा रही है। जिसपर पावरकॉम ने गमाडा को साढ़े 19 लाख रुपए का जुर्माना लगाया। दूसरी ओर गमाडा की ओर से आईटी सिटी में सड़कों पर स्ट्रीट लाइट्स चलाने के लिए कमर्शियल मीटर का इस्तेमाल किया जा रहा था। नियमों के अनुसार स्ट्रीट लाइट्स के लिए पंजाब लाइटिंग के मीटर से कनेक्शन लेना चाहिए था। इस वॉयलेशन के लिए भी पावरकॉम की ओर से गमाडा को 36 लाख का फाइन किया गया है।


कमर्शियल काम के लिए हो रहा था इस्तेमाल
गमाडा के पूरब अपार्टमेंट से जिस कंपनी को बिजली की सप्लाई दी जा रही थी वह कंपनी भी गमाडा के ही प्रोजेक्ट पर काम कर रही है। जबकि पावरकॉम के अधिकारियों का कहना है कि पूरब अपार्टमेंट के लिए विभाग की ओर से जो मीटर दिया गया था गमाडा ने उस मीटर का इस्तेमाल कमर्शियल काम के लिए किया है। जिसके चलते गमाडा को जुर्माना लगाया गया है।


स्ट्रीट लाइट्स के लिए भी कमर्शियल मीटर
गमाडा के एयरोसिटी एरिया में बनाई जा रही आईटी सिटी में भी गमाडा की ओर से पावरकॉम के नियमों की उल्लंघन किया गया। जिसके चलते वहां पर भी गमाडा को जुर्माने का झटका दिया गया है। आईटी सिटी में गमाडा की ओर से सड़कों पर जो स्ट्रीट लाइट्स लगाई गई उन्हें कमर्शियल मीटर से सप्लाई दी जा रही थी। जबकि नियमों के अनुसार सड़कों की स्ट्रीट लाइट्स के लिए गमाडा को पंजाब सरकार के पंजाब लाइटिंग मीटर से कनेक्शन दिया जाना चाहिए था। जो कि पावरकॉम के इलेक्ट्रिसिटी एक्ट के सेक्शन 126 के तहत अपराध माना जाता है।


पंजाब लाइटिंग मीटर से मिलता है कनेक्शन
गमाडा की ओर से बिजली के मीटरों का मिसयूज किया गया था। मीटर पूरब अपार्टमेंट के लिए दिया गया था, जबकि वहां से प्राइवेट कंस्ट्रक्शन कंपनी को सप्लाई दी जा रही थी जो कि नियमों के खिलाफ है। इसके चलते गमाडा को जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा आईटी सिटी में गमाडा की ओर से सड़कों पर जो स्ट्रीट लाइट्स लगाई गई उन्हें कमर्शियल मीटर से सप्लाई दी जा रही थी। सड़कों की स्ट्रीट लाइट्स के लिए गमाडा को पंजाब सरकार के पंजाब लाइटिंग मीटर से कनेक्शन दिया जाना चाहिए था। -हरविंदर सिंह सैनी, एसई

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना