चंडीगढ़ / ईको सेंसेटिव जोन पर पंजाब सरकार का प्रस्ताव नामंजूर,पर्यावरण मंत्रालय ने कहा- कम से कम एक किलोमीटर का दायरा रखें

सुखना वाइल्ड लाइफ। फाइल फोटो सुखना वाइल्ड लाइफ। फाइल फोटो
X
सुखना वाइल्ड लाइफ। फाइल फोटोसुखना वाइल्ड लाइफ। फाइल फोटो

  • पर्यावरण मंत्रालय ने पंजाब सरकार को लिखे पत्र में कहा है कि चंडीगढ़ का ऑब्जेक्शन सही है
  • चंडीगढ़ प्रशासन ने पंजाब सरकार के प्रपोजल के विरोध में मंत्रालय में लिखित शिकायत की थी

दैनिक भास्कर

Feb 27, 2020, 11:42 AM IST

चंडीगढ़. सुखना वाइल्ड लाइफ सेंक्चुअरी के आस-पास ईको सेंसेटिव जोन का दायरा तय करने को लेकर पंजाब सरकार का प्रपोजल पर्यावरण मंत्रालय ने नामंजूर कर दिया है। मंत्रालय ने सरकार से कहा है कि वह ईको सेंसेटिव जोन का दायरा कम से कम 1 किलोमीटर रखें। इससे पहले चंडीगढ़ प्रशासन ने पंजाब सरकार के प्रपोजल के विरोध में मंत्रालय में लिखित शिकायत की थी। 

पर्यावरण मंत्रालय ने पंजाब सरकार को लिखे पत्र में कहा है कि चंडीगढ़ का ऑब्जेक्शन सही है, इसलिए पंजाब सरकार को जल्द नया प्रपोजल मंत्रालय को भेजना चाहिए। पंजाब सरकार को निर्देश दिए गए हैं कि वह प्रपोजल में ईको सेंसेटिव जोन का दायरा कम से कम 1 किलोमीटर का दायरा रखने का प्रावधान करें।

टाटा कॅमलॉट हाउसिंग प्रोजेक्ट ला रही है

पंजाब सरकार सुखना वाइल्ड लाइफ सेंक्चुअरी के अपने एरिया में 100 मीटर के दायरे में ईको सेंसेटिव जोन डिक्लेयर करना चाहती है। पहले भी यही प्रपोजल भेजा गया था। इससे पहले पंजाब सरकार सेंक्चुअरी के करीब 125 मीटर दूर कांसल एरिया में टाटा कैमलॉट हाउसिंग प्रोजेक्ट ला रही थी। इस प्रोजेक्ट को सुप्रीम कोर्ट रद‌द कर चुका है, लेकिन अगर 100 मीटर का दायरा हो जाता है तब पंजाब सरकार अपने एरिया में इस सेंक्चुअरी के 100 मीटर दूर किसी भी तरह के प्रोजेक्ट को ला सकती है।

विधायकों को मिलने थे फ्लैट

टाटा कैमलॉट प्रोजेक्ट में पंजाब के कई विधायकों को फ्लैट भी दिए जाने थे। इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट भी सरकार को फटकार लगा चुकी है, जबकि दूसरी तरफ चंडीगढ़ शुरू से पंजाब सरकार के इस 100 मीटर के प्रपोजल का विरोध करता आया है।

100 मीटर का दायरा चाहता है पंजाब...
चंडीगढ़ प्रशासन शुरू से पंजाब के इस प्रपोजल का विरोध कर रहा है, जिसका कारण चंडीगढ़ का फॉरेस्ट एरिया और दूसरा सुखना लेक है। पंजाब की तरफ से अगर 100 मीटर का दायरा नोटिफाई होता है तो इससे वाइल्ड लाइफ सेंक्चुअरी प्रभावित होगी। साथ ही सुखना लेक जिसे जल्द ही वेटलैंड डिक्लेयर किया जाना है, उसे नुकसान हो सकता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना