चंडीगढ़ / पंजाब और हरियाणा चंडीगढ़ को राजधानी साबित करने वाला दस्तावेज नहीं कर पा रहे पेश



Punjab and Haryana not able to produce documents to prove Chandigarh its capital.
X
Punjab and Haryana not able to produce documents to prove Chandigarh its capital.

  • हाईकोर्ट ने कहा अधिसूचना पेश करें 
  • केंद्र सरकार ने समय मांगा

Dainik Bhaskar

Sep 09, 2019, 07:29 PM IST

चंडीगढ़ (ललित कुमार). पंजाब और हरियाणा दोनों ही राज्य सरकारें कागजों पर अपनी राजधानी चंडीगढ़ को साबित नहीं कर पा रहे हैं। सोमवार को पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने दोनों राज्यों को पूछा कि क्या चंडीगढ़, पंजाब और हरियाणा का  हिस्सा है। हाईकोर्ट ने पंजाब, हरियाणा और केंद्र को इस बारे में एफिडेविट दाखिल करने के निर्देश दिए हैं।

 

सुनवाई के दौरान हरियाणा के एडवोकेट जनरल ने कहा कि चंडीगढ, हरियाणा की राजधानी है जबकि चंडीगढ, हरियाणा का हिस्सा नहीं है। वहीं पंजाब सरकार की तरफ से कोर्ट में कहा गया कि चंडीगढ़ पंजाब की राजधानी है और राज्य का हिस्सा भी है। केंद्र सरकार की तरफ से इस बारे में समय दिए जाने की मांग की गई।

 

दोनो राज्यों ने कोर्ट में साफ कर दिया कि चंडीगढ़ के अनुसूचित जाति से संबंध रखने वाले किसी नागरिक को आरक्षण के तहत अपने अपने राज्यों में नौकरी नहीं दे सकते अगर वो चाहे तो जनरल कैटेगरी में आवेदन कर सकता है। जस्टिस आरके जैन और जस्टिस अरुण कुमार त्यागी की खंडपीठ ने मामले पर 23 सितंबर के लिए अगली सुनवाई तय की है।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना