पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Ruckus In Punjab University\'s Hostel Number 7 Till 2:30 Am On The Intervening Night Of Friday And Saturday Morning.

हॉस्टल नंबर सात में हंगामा, शुक्रवार रात ढाई बजे तक चलता रहा तमाशा

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • एबीवीपी की मीटिंग करवा रहे थे वार्डन, विक्रांत खंडेलवाल थे मौके पर मौजूद
  • गोल्डन जुबली में हुए डिनर की रिपोर्ट भी मांगी, कार्रवाई के लिए सोमवार तक का समय

चंडीगढ़. पंजाब यूनिवर्सिटी के हाॅस्टल नंबर सात के वार्डन ऑफिस में ही चल रही अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) की मीटिंग के समय पीयू स्टूडेंट्स यूनियन (पुसू) के नेताओं के पहुंचने की वजह से हंगामा खड़ा हो गया।

 

हाल ही में नियुक्त किए गए वाॅर्डन अरुण कुमार ठाकुर की मौजूदगी में एबीवीपी के विक्रांत खंडेलवाल और अन्य कुछ स्टूडेंट नेता मीटिंग कर रहे थे। पुसु के शोर मचाते ही सभी स्टूडेंट संगठन इकट्‌ठा हो गए और रात लगभग ढाई बजे तक हंगामा चलता रहा।

 

स्टूडेंट वार्डन को बाहर निकालने की मांग कर रहे थे लेकिन बाद में डीन ऑफ स्टूडेंट्स वैलफेयर (डीएसडब्ल्यू) प्रो. इमैनुअल नाहर ने आकर मामला संभाला। सिक्योरिटी ऑफिसर विक्रम सिंह के अलावा कुछ ही लोग इस मौके पर मौजूद थे।

 

स्टूडेंट्स फॉर सोसायटी (एसएफएस), स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया (सोई) और नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) आदि ने हॉस्टल को घेरे रखा। डीएसडब्ल्यू प्रो नाहर और अन्य वार्डन ने आकर मामला संभालने की कोशिश की।

 

सुबह 11.30 पर उन्होंने इस बारे में मीटिंग की। वार्डन ठाकुर का कहना है कि एबीवीपी ने उनको मैमोरंडम सौंपा था कि खाने की क्वालिटी खराब है। क्वालिटी को चेक कराने के लिए ही एबीवीपी के नेताओं को बुलाया था।

 

विक्रांत खंडेलवाल शायद अपने कार्यकर्ताओं की वर्किंग को चेक करने के लिए आए थे। वह इस बात का जवाब नहीं दे पाए कि खंडेलवाल को उन्होंने किस अधिकार के साथ प्रवेश दिया। वह न तो यूनिवर्सिटी इंप्लाइ हैं और ना ही उनका कोई रिश्तेदार हॉस्टल नंबर एक में रहता है।

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आपका कोई सपना साकार होने वाला है। इसलिए अपने कार्य पर पूरी तरह ध्यान केंद्रित रखें। कहीं पूंजी निवेश करना फायदेमंद साबित होगा। विद्यार्थियों को प्रतियोगिता संबंधी परीक्षा में उचित परिणाम ह...

और पढ़ें