पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Short Circuit Fire In The Huge Megamart Server Room, 16 Fire Tenders Continuously Thrown Water Till 12 O'clock, The Fire Was Not Extinguished

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रविवार दोपहर तक विशाल मेगामार्ट के बेसमेंट से निकल रहा धुंआ, सर्वर रूम में शॉट सर्किट से लगी थी आग

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विशाल मेगामार्ट में लगी आग रात तक नहीं बुझी थी
  • जिस बिल्डिंग में शोरूम है, फायर डिपार्टमेंट ने उसे डेंजर घोषित कर दिया है
  • आग बुझाने के लिए मोहाली, चंडीगढ़, राजपुरा से फायर की 16 गाड़ियां पहुंची

मोहाली. फेज-5 स्थित विशाल मेगामार्ट में लगी आग को रविवार दोपहर तक पूरी तरह से बुझाया नहीं जा सका है। अभी भी बेसमेंट से धुंआ निकल रहा है। बेसमेंट में जाने का कोई रास्ता नहीं होने कारण अंदर अभी तक पहुंचा नहीं जा सका है। देर रात को एयरफोर्स के फायरटेंडर भी मौके पर पहुंच चुके थे। एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची लेकिन कोई रास्ता न होने कारण वह किसी रेस्क्यू ऑप्रेशन चलाए वापस हो गई। इस आगजनी में करोड़ों के सामान का नुकसान होने का अंदेशा है लेकिन कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है।

शॉर्ट सर्किट से आग लगने का अंदेशा
सर्वर रूम में लगी आग को देर रात तक बुझाया नहीं जा सका। शनिवार को शॉट सर्किट की वजह से विशाल मेगामार्ट के सर्वर रूम में आग लग गई। इसके बाद मेगामार्ट के कर्मचारियों ने अग्निशमन यंत्रों की मदद से आग बुझाई, लेकिन कुछ देर बाद आग फिर भड़क गई। 

कई जगहों से मंगाए फायरटेंडर
आग बुझाने के लिए मोहाली, चंडीगढ़, राजपुरा से फायर की 16 गाड़ियां पहुंची। एनडीआरएफ और एयरफोर्स की टीम भी मदद के लिए पहुंची। 16 गाड़ियों से करीब अस्सी बार पानी फेंका गया, लेकिन उसके बाद भी आग पर काबू नहीं पाया जा सका। 

इंक्वायरी मार्क की
एसडीएम जगदेव सहगल ने घटना को लेकर इन्क्वायरी मार्क कर दी है। उन्होंने बताया कि सामान बहुत ज्यादा था, इस कारण प्रशासन को आग बुझाने में देरी हो रही है। जिस बिल्डिंग में शोरूम है, फायर डिपार्टमेंट ने उसे डेंजर घोषित कर दिया है। डिपार्टमेंट के अफसरों के मुताबिक जिस बिल्डिंग में पांच घंटे से अधिक समय तक आग लगी हो, उसे डेंजर घोषित किया जाता है।

दो बार विशाल मेगामार्ट को नोटिस दे चुके हैं
एडिशनल फायर ऑफिसर मोहन लाल ने बताया कि शोरूम मालिक को दो बार फायर सेफ्टी नियम पूरा नहीं करने को लेकर नोटिस दिए जा चुके हैं। फिर भी उसने नियम पूरे नहीं किए और न ही नोटिस का कोई जवाब दिया।

बेसमेंट में घी, तेल होने से और भड़की आग
बेसमेंट में ग्रासरी का पूरा सामान, कॉस्मेटिक का सामान, लेडिज, जेंटस और बच्चों के शूज , कपड़े, पर्दे, ताैलिए, चादरें, बर्तन, जिम का सामान, पीछे चेंज रूम के साथ सर्वर व स्टोर बनाया गया था। बताया जा रहा है कि करीब 3 करोड़ से अधिक का सामान अंदर था। 

आग न भड़कती यदि बेसमेंट में वेंटिलेशन होती
एसडीएम जगदेव सिंह व फायर अफसर ने कहा कि शोरूमों के पिछले हिस्से में वेंटिलेशन का हिस्सा कवर किया गया था। वहां पक्की दीवारें बनाकर उसको स्टोर रूम का रूप दे दिया गया था। यदि वेंटिलेशन होती तो फायर ब्रिग्रेड वहां के शीशे तोड़कर वहां से पानी फेंंक सकते थे। इसी कारण बेसमेंट का लेंटर जेसीबी से तोड़ना पड़ा, तब तक देर हो चुकी थी।

सुबह पौने 8 बजे स्टाफ ने स्टोर ओपन किया...
शनिवार सुबह 8 बजे के करीब साफ सफाई का काम चल रहा था तो सर्वर रूम में शार्ट सर्किट के कारण फायर अलार्म बजा। स्टाफ ने तुरंत आग बुझा दी और फिर से काम में जुट गए। स्टोर कम सर्वर रूम से धुआं निकलने लगा तो 8 बजकर 17 मिनट पर फायरब्रिगेड को कॉल की गई। 8 बजकर 22 मिनट में फायर ब्रिगेड की एक गाड़ी पहुंची और फ्रंट एट्री से अंदर घुसने का प्रयास करने लगी लेकिन धुंए के कारण गाड़ी अंदर प्रवेश नहीं कर सकी। 

पहले कम धुंआ निकल रहा था
सुबह 9 बजे फायर ब्रिगेड की एक और गाड़ी बुलाई गई। शोरूम के बैकसाइड से सीढि़यों की तरफ से अंदर जाने का प्रयास किया गया। 11 बजे तक अंदर जाने की कशमकश चलती रही। इसी बीच ऑक्सीजन मॉस्क लगा दो कर्मी फ्रंट साइड से अंदर बेसमेंट तक पहुंचे, लेकिन जहां आग लगी थी, वहां नहीं पहुंच सके। 12 बजे बेसमेंट में वेंटिलेशन के लिए छोड़ी जगह पर बनाई गई दीवारों को फायरब्रिगेड ने तोड़ना शुरू किया, जिससे अंदर का धुआं बाहर निकलने लगा। दोपहर 1 बजे तक मोहाली से पांच फायर टेंडर और फिर चंडीगढ़ से गाड़ियां पहुंची। करीब 2 बजे एसडीएम जगदेव सहगल पहुुंचे।



आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले रुके हुए और अटके हुए काम पूरा करने का उत्तम समय है। चतुराई और विवेक से काम लेना स्थितियों को आपके पक्ष में करेगा। साथ ही संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी चिंता का भी निवारण होगा...

और पढ़ें