चंडीगढ़ / नशा करने से रोका तो बेटे ने पिता के सिर पर मारी 40 बार ईंट, मौत

बेटे ने अपने पिता के सिर पर वार किए बेटे ने अपने पिता के सिर पर वार किए
X
बेटे ने अपने पिता के सिर पर वार किएबेटे ने अपने पिता के सिर पर वार किए

  • नशा करने के बाद रिंकू पागल हो जाता था
  • रिंकू ने अपने पिता की खोपड़ी कर कई बार वार किया

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2020, 09:58 AM IST

मोहाली. गांव मुंडी खरड़ में एक नशेड़ी बेटे ने अपने पिता की हत्या कर दी। आरोपी बेटा पिता के सिर पर तब तक वार करता रहा, जब तक कि वे मर नहीं गए। ईंट से कुल 35 से 40 बार सिर पर वार किए गए। खोपड़ी टूटकर कई हिस्से में बिखरी हुई थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। उसे शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

आरोपी की पहचान 28 साल के रिंकू के रूप में हुई है। रिंकू नशा करने के बाद पागल सा हो जाता था। घर में पिता व छोटे भाई के साथ हर रोज झगड़ा करता था। आरोप है कि लोगों की गाड़ियों पर पत्थर मारता था। गांव में बहुत सी गाड़ियों के शीशे तक तोड़ चुका है। मुंडी खरड़ में सैनी मोहल्ले में रहने वाला रिंकू बुधवार रात 10 बजे नशे में धुत होकर घर आया।

पिता हंसराज (58) ने रिंकू को नशा न करने की नसीहत दी तो दोनों में बहसबाजी हो गई। गुस्से में रिंकू ने आंगन में ही लगे ईंटों के ढेर से ईंट उठाई और पिता के सिर पर दे मारी। नशे में धुत रिंकू सिर पर पर ईंट मारता रहा। 40 बार वार होने से पिता की खोपड़ी के टुकड़े हो गए। भेजा व खून निकल रहा था लेकिन फिर भी बेटा प्रहार करता रहा। आंगन में दूर तक खून के छींटे बिखरे हुए थे। जहां पिता को मारा गया, वहीं ईंटों का चट्ठा था, जो खून के छींटों से सन चुका था।

मृतक का छोटा बेटा सोनू (18 साल) जब घर आया तो उसने देखा कि रिंकू के हाथ व कपड़े खून से लथपथ हैं। उसके चेहरे से भी खून टपक रहा था और हाथ में पकड़ी ईंट से खून जमीन पर गिर रहा था। सोनू ने पूछा-यह क्या किया? इस पर रिंकू बोला ‘बुड्‌ढा बहुत बोलता था, आज मार ही दिया’।

सोनू ने बताया कि पिता राज मिस्त्री थे। वह जब बुधवार रात करीब 10 बजे काम से लौटा तो घर का दरवाजा खुला हुआ था। अंदर दाखिल होकर देखा तो घर के आंगन में लगे ईंटों के ढेर के पास पिता की लाश खून से लथपथ गिरी पड़ी थी। पास ही में उसका बड़ा भाई रिंकू खड़ा था, जिसके हाथ में खून से लाल हुई ईंट पड़ी हुई थी।

नशे के कारण मानसिक संतुलन बिगड़ चुका है...
आरोपी रिंकू पिछले कई साल से नशा कर रहा था और काेई भी काम नहीं करता था। ज्यादा नशा करने के कारण उसका मानसिक संतुलन भी बिगड़ चुका है। रिंकू करीब 6 महीने से नहाया तक नहीं। छोटा भाई सोनू कुछ काम करके गुजारा करता था। रिंकू की इस हालत को लेकर अक्सर पिता से उसकी लड़ाई होती थी।
 

रात 12 बजे पुलिस पहुंची मौके पर...
सोनू ने पड़ोस में रहने वाले अपना दादा जगदीश चंद व अन्यों को हत्या के बारे में बताया। इस दौरान आरोपी रिंकू मौके से फरार हो गया था। लोगों ने पुलिस को सूचना दी और रात करीब 12 बजे पुलिस मौके पर पहुंची। फोरेंसिक टीम को मृतक हंसराज की खोपड़ी की टूटी हुई हड्डियां मौके पर ही गिरी हुई मिलीं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना