पंजाब / 1 से अधिक ट्यूबवेल वाले जमींदारों की सब्सिडी होगी बंद; 24 को कैबिनेट मीटिंग में आ सकता है प्रस्ताव

Subsidies of landlords with more than 1 tube well will be closed
X
Subsidies of landlords with more than 1 tube well will be closed

  • निजी यूनिवर्सिटीज की स्थापना के लिए तय शर्तों में छूट देने पर विचार, राज्य में 14 निजी यूनि‌वर्सिटीज हैं

दैनिक भास्कर

Jul 21, 2019, 08:16 AM IST

चंडीगढ़. एक से अधिक टयूबवेल कनेक्शन रखने वाले और कई एकड़ जमीन के मालिक बड़े किसानों को अब बिजली सब्सिडी नहीं मिलेगी। इस संबंधी प्रस्ताव सरकार 24 जुलाई को होने वाली कैबिनेट मीटिंग में लाने जा रही है। इस पर मुहर लगना तय है। सरकार का मानना है कि ऐसे बड़े किसान बिजली बिल भरने की समर्था रखते है लेकिन सब्सिडी का फायदा भी उठा रहे हैं। यही नहीं जिन किसानों को पास एक से अधिक ट्यूबवेल हैं उन्हें एक कनेक्शन पर ही सब्सिडी मिलेगी।

 

किसान आयोग की सिफारिश...बिजली सब्सिडी  के बढ़ते बोझ और किसान आयोग की सिफारिशों के तहत सरकार बड़े जमींदारों को उन आर्थिक सुविधाओं से अलग करना चाहती हैै। आयोग ने सिफारिशों में बड़े जमीदारों को एक ट्यूबवेल के लिए ही बिजली सब्सिडी देने की बात कही गई है।

 

छोटे किसानों की सबसिडी जारी रहेगी
छोटे किसानों के पास केवल एक ही ट्यूबवेल कनेक्शन हैं, जिन पर सरकार बिजली सब्सिडी जारी रखेगी लेकिन जिन किसानों के पास एक से अधिक ट्यूबवेल कनेक्शन हैं, उन्हें भी केवल एक कनेक्शन पर बिजली सब्सिडी देने का प्रस्ताव है।
 

यूनिवर्सिटी के लिए तय शर्तों में छूट का प्रस्ताव
निजी यूनिवर्सिटीज की स्थापना के लिए तय शर्तों में छूट देने पर विचार कर रही है। राज्य में 14 निजी यूनि‌वर्सिटीज हैं। फिलहाल राज्य में निजी यूनिवर्सिटी के लिए 35 एकड़ भूमि होना जरूरी है, जिसे नए प्रस्ताव के तहत घटाकर 25 एकड़ किया जा रहा है। कैबिनेट की बैठक में पंजाब प्राइवेट यूनिवर्सिटी पालिसी एक्ट 2010 के अनुच्छेद 4.5 (3) में संशोधन पर मुहर लग सकती है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना