चंडीगढ़ / सवारी लेकर गए टैक्सी ड्राइवर का मर्डर, रोड पर फेंका शव,



Taxi driver killed by riders
X
Taxi driver killed by riders

  • पहले पुलिस ने हादसे में हुई मौत समझ मोर्चरी में रखवा दिया था
  • बाद में सिर पर चोट देख मर्डर का मामला दर्ज किया

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2019, 10:13 AM IST

पिंजौर. कालका के एक व्यक्ति के सिर पर तेजधार हथियार सेे हमला कर हत्या कर दी गई। मंगलवार-बुधवार की मध्यरात्रि कालका के शक्ति नगर निवासी का शव पिंजौर-नालागढ़ रोड पर गांव खेड़ावाली के पास मिला।

 

पुलिस ने रात को हादसे में मौत समझ शव को कालका सीएचसी की माॅर्चरी में रखवा दिया था। बुधवार सुबह शव को ध्यान से देखने पर उसके सिर पर गहरा घाव देखकर पुलिस ने जब जांच करनी शुरू की तो मामला कुछ और ही निकला।

 

पुलिस ने जब मृतक की शिनाख्त की तो पता चला कि वह परविंद्र उर्फ बिट्टू (40) कालका के कुराड़ी मोहल्ला का रहने वाला था और टैक्सी चलाता था। थाना प्रभारी यशदीप के अनुसार मंगलवार रात को 10 बजकर 18 मिनट पर टैक्सी बद्दी के लिए बुक हुई थी।

 

टैक्सी में कुछ लोग सवार होकर बद्दी के लिए रवाना हो गए थे। बुधवार रात पुलिस को किसी ने सूचना दी कि बालद नदी के किनारे एक कार खड़ी है, जिसके शीशे खुले हैं और कार की सीट खून से लथपथ है। पुलिस टीम मौके पर पहुंची। मौके पर एक कार खड़ी थी, जिसकी सीट खून से लथपथ थी। नंबर सर्च किया तो पाया यह गाड़ी कालका की है।

 

पत्नी को बोला- हर 15 मिनट में फोन करते रहना
परविंद्र ने कालका से निकलते हुए घर पर पत्नी को फोन कर बोला था कि मुझे हर 15 मिनट बाद फोन करते रहना। परविंद्र के भाई ने पुलिस को बताया कि परविंद्र की पत्नी ने पौने 11 बजे के आसपास एक बार फिर उसे मोबाइल पर फोन किया। इसके बाद 11 बजे दोबारा फोन किया तो उसका फोन बंद आया।

 

भाई की शिकायत पर पुलिस ने किया केस दर्ज
थाना प्रभारी यशदीप ने बताया कि पुलिस ने मृतक के भाई निर्मल की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मृतक के शव का पोस्टमाॅर्टम करवाने के लिए शव सीएचसी कालका में रखवा दिया गया है।

 

मामले में पुलिस जांच कर रही है कि परविंद्र किसे टैक्सी में लेकर गया था और उसने पत्नी से फोन पर क्यों कहा था कि हर 15 मिनट में फोन करते रहना। पुलिस उसकी कॉल डिटेल भी निकाल रही है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना