मोहाली / 1 दिसंबर से कैशलेस होंगे टोल प्लाजा, इसलिए फास्टैग लगाना है अनिवार्य



गाड़ी की आगे की स्क्रीन पर लगाया जाता है फास्टैग गाड़ी की आगे की स्क्रीन पर लगाया जाता है फास्टैग
X
गाड़ी की आगे की स्क्रीन पर लगाया जाता है फास्टैगगाड़ी की आगे की स्क्रीन पर लगाया जाता है फास्टैग

  • अगर गाड़ियों में नहीं होगा फास्टैग तो चुकानी पड़ सकती है दोगुना फीस

Dainik Bhaskar

Nov 19, 2019, 11:41 AM IST

जीरकपुर.एक दिसंबर से बिना फास्टैग वाली गाड़ियाें का नेशनल हाईवे पर चलना महंगा हो जाएगा। सड़क एवं परिवहन मंत्रालय की ओर से एक दिसंबर से देश के सभी टोल प्लाजा पर फास्टैग अनिवार्य कर दिया है। इससे टोल टैक्स चुकाने के लिए आपको कतार में खड़े नहीं होना पड़ेगा।

 

प्रीपेड टैग इस्तेमाल करना आपके लिए सुविधाजनक तो है ही, इससे आप जाम से भी बच सकते हैं। इसलिए एक दिसंबर तक सभी व्हीकल मालिकों को फास्टैग की सुविधा लेने के लिए कहा जा रहा है। एक दिसंबर के बाद जिन गाड़ियों में फास्टैग नहीं होगा, उनसे दोगुना चार्ज वसूला जा सकता है। इसलिए अभी समय है। फास्टैग ले सकते हैं।


जीरकपुर-पटियाला रोड पर बने टैक्स बैरियर पर रोजाना करीब 24 हजार व्हीकल्स गुजरते हैं। इसमें से करीब 6 हजार व्हीकल मालिकों ने फास्टैग की सुविधा ले ली है। इन दिनों 5 से 6 हजार लोग फास्टैग के लिए आ रहे हैं। फास्टैग लगाने का काम कुछ मिनटों में हो रहा है।

 

जीरकपुर-अंबाला हाईवे पर दप्पर टोल प्लाजा पर 50 हजार के करीब व्हीकल गुजरते हैं। यहां भी काफी लोग फास्टैग लगवा रहे हैं। यह टैग आपको किसी भी टोल प्लाजा से मिल सकता है। कुछ फाइनेंशियल कंपनियाें और बैंक ने इसके लिए ऑनलाइन फॉर्म निकाले हैं जिसे भरने के बाद एक क्वेरी जेनरेट होती है।

 

इसके बाद ग्राहक को बैंक जाकर फॉर्म भरना होता है और जरूरी दस्तावेज जमा कर फास्टैग अकाउंट खुल जाता है। परिवहन मंत्रालय ने फास्टैग को हर व्हीकल पर जरूरी कर दिया है। इसी के साथ ही सड़क पर ट्रैफिक उल्लंघन करने वालों पर भी एक दिसंबर से सख्ती शुरू हो जाएगी। ट्रैफिक के नियम तोड़ने पर भारी जुर्माने और सजा का प्रावधान है।


ये दस्तावेज जरूरी:  गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नंबर गाड़ी मालिक के केवाईसी कागजात जैसे ड्राइविंग लाइसेंस पहचान, पते के सबूत आदि।

200 रुपए होगी फीस: टैग की एकमुश्त फीस 200 रुपए है, जो एजेंसी चार्ज करती है। यह रिफंडेबल है। जो वाहन के प्रकार पर निर्भर करता है। यह फास्टैग इश्यू होते वक्त जारी करने वाली एजेंसी चार्ज करती है। फास्टैग अकाउंट बंद करते वक्त यह राशि लौटा दी जाती है।
 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना