• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Venkaiah Naidu and Manmohan Singh said, the teachings of Shri Guru Nanak Dev ji are beneficial for all humanity.

विधानसभा / वैंकेया नायडू ने कहा-श्री गुरू नानक देव जी की शिक्षाएं मानवता के लिए कल्याणकारी

मनोहर लाल खट्‌टर, सत्यदेव नारायण आर्य, राणा केपी सिंह, वैंकेया नायडू, मनमोहन सिंह, वीपी सिंह बदनौर और कैप्टन अमिरंदर सिंह मनोहर लाल खट्‌टर, सत्यदेव नारायण आर्य, राणा केपी सिंह, वैंकेया नायडू, मनमोहन सिंह, वीपी सिंह बदनौर और कैप्टन अमिरंदर सिंह
X
मनोहर लाल खट्‌टर, सत्यदेव नारायण आर्य, राणा केपी सिंह, वैंकेया नायडू, मनमोहन सिंह, वीपी सिंह बदनौर और कैप्टन अमिरंदर सिंहमनोहर लाल खट्‌टर, सत्यदेव नारायण आर्य, राणा केपी सिंह, वैंकेया नायडू, मनमोहन सिंह, वीपी सिंह बदनौर और कैप्टन अमिरंदर सिंह

  • श्री गुरू नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्‍य में पंजाब विधानसभा में आयोजित विशेष सेशन
  • पंजाब और हरियाणा से कुल 174 विधायक हुए शामिल, 53 साल में ऐसा पहला अवसर

दैनिक भास्कर

Nov 06, 2019, 06:39 PM IST

चंडीगढ़. श्री गुरू नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्‍य में पंजाब विधानसभा में आयोजित विशेष सेशन को उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू ने संबोधित किया। उन्होंने सभी और खासतौर से युवाओं को गुरू नानक देव की शिक्षाओं पर चलने को कहा।

 

बोले कि उनकी शिक्षाएं समस्त मानवता के लिए कल्‍याणकारी हैं। उन्होंने सदैव मानवता की राह दिखाई है। नायडू ने आशा जताई कि करतारपुर कॉरिडोर विश्वभर में शांति, सद्भावना व मानवता का पैगाम देगा। बता दें कि वैंकेया नायडू ने पंजाबी भाषा में संबोधन की शुरुआत की।

 

पूर्व पीएम डा. मनमोहन सिंह ने भी पंजाब भाषा में संबोधन किया। उन्होंने श्री गुरू नानक जी के जीवन पर रोशनी डालते हुए कहा कि गुरू साहिब ने काम करने की शिक्षा दी। सारी मानवता को उनके बताए रास्ते पर चलते की जरूरत है।

 

पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, पंजाब के राज्‍यपाल वीपी सिंह बदनौर, हरियाणा के राज्‍यपाल सत्‍यदेव नारायाण आर्य और हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल को स्‍मृति चिन्‍ह और स्‍मृति चिन्‍ह के रूप में 550वें प्रकाश पर्व पर बनाए गए सोने व चांदी के सिक्के भेंट किए।

 

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और हरियाणा के पूर्व मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा भी मौजूद हैं। सदन में पंजाब और हरियाणा के 174 विधायक मौजूद रहे। 53 साल के बाद यह पहला अवसर है कि पंजाब और हरियाणा के विधायक एक साथ बैठे।

 

इससे पहले उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू और अन्‍य नेताओं का पंजाब विधानसभा में पहुंचने पर विधानसभा अध्‍यक्ष राणा केपी सिंह और पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने स्‍वागत किया। उपराष्‍ट्रपति को इस अवसर पर गार्ड ऑफ आर्नर दिया गया।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना