--Advertisement--

सीनाजोरी /नाका तोड़ भागे वन माफिया ने किया पुसिल टीम पर हमला, 2 जवान घायल



wood thieves attacked upon the police team
X
wood thieves attacked upon the police team
  • पंजाब के नंबर के ट्रॉले में भरी थी आम की लकड़ी
  • 3 किलोमीटर पीछा करने पर भी नहीं आए पकड़ में

Dainik Bhaskar

Sep 26, 2018, 08:19 PM IST

ऊना। भद्रकाली गांव में शनिवार रात पुलिस और वन विभाग की टीम के नाके को तोड़ वन माफिया फरार हो गए। जब पुलिस ने उनका पीछा किया तो वनकाटुओं और उनके साथियों ने पुलिस पर हमला कर दिया, जिससे 2 पुलिस कर्मी घायल हो गए। ये लोग पंजाब के नंबर के एक ट्रॉले में आम की लकड़ी भरे हुए थे। हालांकि टीम ने इनका 3 किलोमीटर तक पीछा किया, मगर पकड़ में नहीं आ सके।

  • कांस्टेबल की बाइक को टक्कर मार भागे आरोपी

    कांस्टेबल की बाइक को टक्कर मार भागे आरोपी

    पुलिस कांस्टेबल रविन्द्र सिंह ने पीछा करके जैसी ही अपनी बाइक आरोपियों की गाड़ी के आगे लगाकर उन्हें रोकना चाहा तो आरोपी उसे टक्कर मारकर भाग गए, जिससे उसकी बाइक क्षतिग्रस्त हो गई और वह घायल हो गया, जबकि पुष्पिंदर सिंह की हाथापाई में घायल होने की सूचना है। इस पर पुलिस ने हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। सूचना मिलने पर डीएसपी अम्ब मनोज जम्वाल और थाना प्रभारी चैन सिंह ठाकुर ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी।

  • घर के अंदर लगा दिया लकड़ी से लदा ट्राला

    जानकारी के अनुसार पुलिस और वन विभाग की संयुक्त टीम ने चौकी प्रभारी राजिंद्र पठानिया और वन विभाग के बीओ विश्न सिंह की अगुवाई में शनिवार रात साढ़े 9 बजे नाका लगाया हुआ था। इस दौरान आम की लकड़ी से लदे एक ट्राॅले (पीबी 07एएल-1974) को पुलिस ने रुकने का इशारा किया, लेकिन वन माफिया नाका तोड़कर ट्राॅले को भगा ले गए।टीम ने 3 किलोमीटर तक उनका पीछा किया। इस दौरान आरोपियों ने एक घर के अंदर लकड़ी से लदा ट्राॅला लगा दिया।

  • कौन हैं आरोपी?

    थाना प्रभारी चैन सिंह ठाकुर ने बताया कि पुलिस ने यशपाल सिंह उर्फ गोगी, मोहिंद्र सिंह, रज्जाक मोहम्मद वासी डंगोह खास के खिलाफ फोरैस्ट एक्ट के सेक्शन 307, 353,  342, 379, 506 तथा वन अधिनियम की धारा 41, 42 के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..