जज्बा / पंजाब की 103 साल की बुजुर्ग एथलीट मान कौर भरेगी पोलैंड में उड़ान

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 11:18 AM IST


World's oldest athlete Man Kaur
X
World's oldest athlete Man Kaur
  • comment

  • 93 साल की उम्र में दौड़ लगानी शुरू की और कई इंटरनेशनल मैडल अपने नाम किए 
  • गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम है दर्ज

चंडीगढ़ (गौरव मारवाह). देश की सबसे बुजुर्ग एथलीट मान कौर एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के लिए तैयार हैं। 24 मार्च से पोलैंड में शुरू होने वाली वर्ल्ड मास्टर गेम्स में मान कौर रजिस्ट्रेशन कर चुकी हैं और यहां पर वे दौड़ लगाने वाली दुनिया का सबसे उम्रदराज एथलीट बन जाएंगी।

 

देश का मान बढ़ाने के लिए पंजाब की कौर लगातार मेहनत कर रही हैं। पोलैंड के आयोजकों ने साफ किया है कि 103 साल की मान कौर गेम्स में हिस्सा लेने वाली सबसे बुजुर्ग एथलीट होंगी और वे यहां पोलैंड में चार कैटेगरी में हिस्सा लेंगी।

 

इसमें 60 और 200 मीटर रेस के साथ साथ शॉटपुट और जेवेलिन थ्रो में भी वे मेडल के दावेदारों में शामिल होंगी। मान कौर ने इससे पहले 2017 वर्ल्ड मास्टर गेम्स में उन्होंने देश के लिए चार गोल्ड मेडल जीते थे जबकि 2018 स्पेन वर्ल्ड मास्टर गेम्स में उन्होंने दो गोल्ड मेडल पर कब्जा किया था।

 

 

मान कौर ने दौड़ लगाना तब शुरु किया था जब सभी बुजुर्ग हार मान जाते हैं। उन्होंने 93 की उम्र में बेटे के कहने पर दौड़ लगानी शुरू की। उन्होंने 102 साल की उम्र में न्यूजीलैंड के ऑकलैंड में 100 मीटर स्प्रिंट का गोल्ड मेडल जीतकर सभी को हैरान किया था।

 

इसके बाद उन्होंने ऑकलैंड में स्काई टॉवर पर ‘स्काई वॉक’ कर रिकॉर्ड बनाया था, उस समय उनकी उम्र 102 साल की थी। यह स्काई टॉवर शहर से 192 मीटर की ऊंचाई पर था।

 

इस विश्व रिकॉर्ड को तोड़ने में मान कौर के 80 साल के बेटे गुरदेव सिंह ने उनका साथ दिया। मान ने अपने बेटे का हाथ पकड़कर यह ‘स्काई वॉक’ की।

 

ऑकलैंड में मान कौर ने गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी अपना नाम दर्ज कराया था। यहां उन्होंने जेवेलिन थ्रो में 5 मीटर का स्कोर लगाकर गोल्ड मेडल जीता। उन्होंने सैकरामेंटो में पहली बार वर्ल्ड मास्टर गेम्स में हिस्सा लिया था।

 

100 और 200 मीटर में दो गोल्ड जीतकर उन्होंने रिकॉर्ड बुक में पहली बार इंडिया का नाम दर्ज कराया था। 2011 में ही उन्हें एथलीट ऑफ द ईयर चुना गया।

 

मान कौर को एथलेटिक्स में लेकर आने वाला उनका बेटा ही है। उनके बेटे गुरदेव की उम्र 80 साल की है और उन्हीं के साथ मान कौर ने ट्रेनिंग शुरू की थी।

 

वे उनके साथ हर वर्ल्ड मास्टर गेम्स में हिस्सा लेते हैं और पोलैंड में भी वे उनके साथ रहेंगे। गुरुदेव कहते हैं कि मां हमेशा चैंपियनशिप में हिस्सा लेने को बेताब रहती हैं। वे बार बार पूछती हैं कि अब कितने दिन रह गए हैं।

 

मान कौर को पोलैंड के बाद 2020 में टोरंटो (कनाडा) और 2021 में जापान में होने वाली मास्टर गेम्स में हिस्सा लेना है।

 

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें