पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मुखबिरी के शक में पुलिस के सामने ही युवक को किडनैप कर ले गए बदमाश, रातभर बंधक बनाकर पिटाई

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक चित्र।
  • मौली जागरां में चाचा के यहां आया था पीड़ित
  • कांस्टेबल से बातें करते हुए ही उठा ले गए बदमाश
Advertisement
Advertisement

मनीमाजरा. पुलिस की मुखबिरी करने के शक में एक युवक को कुछ युवकों ने मौली जागरां से किडनैप कर लिया। हैरानी की बात है कि जिस समय युवक को किडनैप किया तो उससे पहले वह एक कांस्टेबल से बातचीत कर रहा था। यहां तक कि बदमाशों से बहस भी कांस्टेबल के सामने ही होती रही। बदमाश युवक को किडनैप कर राजीव काॅलोनी, पंचकूला ले गए। यहां बंधक बनाकर रातभर डंडों से जमकर पिटाई की।
 
आरोप है कि पिस्तौल युवक के मुंह में डालकर ट्रिगर तक दबा दिया, लेकिन गोली नहीं चलने से युवक की जान बच गई। अगले दिन युवक को सुबह छोड़ दिया गया। इसके बाद उसने पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने मौली जागरां थाना पुलिस ने राजीव काॅलोनी, पंचकूला निवासी लब्बल, विक्की समेत पांच युवकों के खिलाफ धारा 365, 307, 342, 506, 147, 148, 149 व आर्म्स एक्ट 25-54-59 के तहत केस दर्ज कर लिया।

मलोया की ईडब्ल्यूएस काॅलोनी निवासी 22 साल के रजत ने बताया कि वह प्राइवेट जॉब करता है। 21 अक्टूबर को वह चाचा से मौली जागरां कॉम्प्लेक्स में मिलने आया था। रात 10.30 बजे वह वापस मलोया जा रहा था तभी मौली कॉम्प्लेक्स और राजीव काॅलोनी के बीच एक फिश मार्केट में उसे चंडीगढ़ पुलिस कांस्टेबल अजय मिल गया। उससे वह बातचीत कर रहा था।
 
इतने में राजीव काॅलोनी की तरफ से लब्बल, विक्की अपने तीन साथियों के साथ आ गया और कांस्टेबल अजय के सामने ही गाली-गलौज करने लगे। लब्बल कहने लगा कि तू पुलिस की मुखबिरी करता है और मेरी जासूसी करने आया है। इस पर रजत ने जवाब दिया कि वह तो चाचा से मिलने आया था और वापस घर जा रहा है।
 
मदद के बजाय अजय वहां से कार से चला गया और पीछे से उन युवकों ने रजत को किडनैप कर लिया और राजीव काॅलोनी के एक कमरे में ले गए। यहां उसके हाथ-पांव बांधकर सभी ने उस पर डंडे बरसाए। लब्बल ने रजत के मुंह में पिस्तौल रखकर कर ट्रिगर दबा दिया। लेकिन किसी वजह से गोली नहीं चली। वह रात करीब 2.30 बजे तक शराब पीने के साथ-साथ उससे मारपीट करते रहे। इसके बाद वह रात को कमरे को बाहर से बंद कर वहां से चले गए और वह सारी रात अंदर ही दर्द से तड़पता रहा। 

अगर जान चली जाती तो कौन होता जिम्मेदार
हैरानी की बात यह है कि अगर बदमाश रजत की जान ले लेते तो इसका जिम्मेवार कौन होता? जब बदमाश उसे किडनैप कर ले गए थे तो उसे पता चला कि अजय बाद में कुछ पुलिसकर्मियों को लेकर वहीं फिश मार्केट के पास आया था। लेकिन वहां किसी ने उसे कह दिया कि रजत को उन्होंने छोड़ दिया। जिस वजह से वापस चला गया, जबकि रजत का कहना है कि उसे शक है कि दूर से अजय ने देख लिया था कि बदमाश उसे किडनैप करके ले जा रहे हैं।
 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज पिछले समय से आ रही कुछ पुरानी समस्याओं का निवारण होने से अपने आपको बहुत तनावमुक्त महसूस करेंगे। तथा नजदीकी रिश्तेदार व मित्रों के साथ सुखद समय व्यतीत होगा। घर के रखरखाव संबंधी योजनाओं पर भ...

और पढ़ें

Advertisement