--Advertisement--

समस्या / हिमुडा के 11.88 करोड़ एक दर्जन विभागों के पास फंसे, अब सरकार के पास मामला भेजने की तैयारी



Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 07:06 AM IST

शिमला. हिमुडा से काम करवाने के बाद सरकार के दर्जनों विभाग ने पूरा पैसा नहीं चुकाया है। ऐसे में हिमुडा ने सरकार से मदद की गुहार की है। सरकार के 12 विभागों के पास हिमुडा का करीब 11. 88 करोड़ है लंबित है जो हिमुडा को पिछले कई सालों से चुकता नहीं किया गया है।

 

इसमें कई विभाग ऐसे है जिसमें हिमुडा ने तय बजट से अधिक के काम कर दिए और इस वजह से हिमुडा की पेमेंट विभागों के पास फंस गई है। विभागों से काम की पूरी पेमेंट निकलवाने के लिए हिमुडा दर्जनों रिमाइंडर भेजा चुका है, लेकिन पैसे नहीं मिल पा रहे है। इसे लेकर हिमुडा प्रबंधन ने सूची जारी की है जो दो साल पहले तैयार की गई है।
 

पैसों के अभाव में ठेकेदारों की पेमेंट और निर्माण कार्य रुका

पैसों के अभाव में हिमुडा प्रबंधन आगे ठेकेदारों की पेमेंट समय से नहीं कर पा रहा है। हिमुडा प्रबंधन ने जिन ठेकेदारों से विभागों का काम करवाया वह उनकी पूरी पेमेंट न हो पाने की वजह से अभी तक बंद नहीं किए जा सके। इसका असर दूसरे अन्य कार्यों पर भी पड़ रहा है।

 

इसी तरह पैसे की कमी के कारण हिमुडा अपनी प्रॉपर्टी का उचित रखरखाव भी नहीं कर पा रहा है। यही नहीं नए कंस्ट्रक्शन वर्क के लिए भी हिमुडा प्रबंधन को पैसों की व्यापक कमी खल रही है। हिमुडा प्रबंधन कई बार पत्राचार के माध्यम से विभागों से अपना पैसा मांग चुका लेकिन पैसा निकलता हुआ नहीं दिख रहा है।
 

महकमों को रिमांडर भेजा जा रहा है: सीईओ
दर्जनों सरकारी महकमों के पास हिमुडा का पैसा रुका हुआ है। उन्हें बार बार रिमाइंडर भेजा जा रहा है। सरकार के ध्यान में भी मामले को लाया गया है। पूरी उम्मीद है विभागों के पास लंबित उनका पैसा शीघ्र मिल जाएगा।। 
उमेश शर्मा, , सीईओ हिमुडा

 

इन विभागों के पास फंसी हिमुडा की पेमेंट

विभाग    लंबित पेमेंट
शिक्षा विभाग    40.94
पर्यटन विभाग    33.33
नगर निगम    44.85
राजस्व विभाग    8.25
शहरी विकास विभाग    47.28
पुलिस विभाग    168.37
कल्याणकारी विभाग    105.04
तकनीकी शिक्षा    20.49
युवा सेवा    114.76
प्रदेश विश्वविद्यालय    80.66
गृह विभाग    199.72
मत्स्य विभाग    322.40
(रुपए लाख में)

--Advertisement--