पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सिरमौर के सभी प्रमुख मार्ग बहाल, हरिपुरधार में बर्फ देखने उमड़ी सैलानियों की भीड़

7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बर्फबारी के कारण तीन दिनों से हरिपुरधार में फंसे हुए थे 250 से अधिक पर्यटक
  • बर्फबारी देखने के लिए पहुंच रहे देशभर से पर्यटक, अठखेलियां कर रहे
Advertisement
Advertisement

हरिपुरधार. सिरमौर जिले में तीन दिनों के अंदर बर्फबारी के कारण बंद हुए सभी मार्गों पर यातायात बहाल कर दिया गया है। सड़कें खुलने के बाद क्षेत्र के लोगों को राहत मिली है। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली से बर्फ देखने के लिए बड़ी संख्या में सैलानियों का पहुंचना शुरू हो गया है। सड़कें खुलने के बाद उन पर्यटकों ने भी राहत ली है जो बर्फबारी के कारण सड़कें बंद होने से पिछले तीन दिनों से हरिपुरधार में फंसे हुए थे।


यहां फंसे सभी पर्यटक रविवार को अपने राज्यों के लिए रवाना हो गए हैं। लोक निर्माण विभाग ने शनिवार देर शाम ही क्षेत्र की सभी प्रमुख सड़कों को यातायात के लिए बहाल कर दिया था। इस बार क्षेत्र के कई इलाकों में दो से ढाई फीट बर्फ गिरी थी। बर्फबारी को देखते हुए समझा जा रहा था कि सड़कों को खोलने के लिए चार से पांच दिनों का समय लग सकता है। लोक निर्माण विभाग ने सड़कों को खोलने के लिए 5 जेसीबी मशीनें लगाई थी। विभाग ने 50 घंटे के भीतर ही सभी सड़कों को यातायात के लिए खोल दिया।

पर्यटकों की मौज मस्ती
हरिपुरधार क्षेत्र में इस सीजन का पहला हिमपात हुआ है। बर्फबारी को देखने के लिए काफी संख्या में पर्यटक पहुंच रहे हैं। थियानबाग घाटी में पर्यटकों का बर्फ देखने के लिए मेला लग रहा है। पर्यटकों ने बर्फ के बीच जमकर अठखेलियां कर रहे हैं।

माता के मंदिर पहुंच रहे पर्यटक
थियानबाग से पर्यटक मां भंगाइणी मंदिर पहुंच रहे है। मंदिर परिसर में करीब डेढ़ फीट बर्फ की चादर बिछी हुई है। मंदिर परिसर से हिमालय पर्वत के अलावा बर्फ से लदी चूड़धार की चाेटियों के भी पर्यटक साक्षात दर्शन कर रहे है। जो पर्यटक मंदिर पहुंच रहे है उनके लिए मंदिर कमेटी की ओर से ठहरने व खाने पीने की उचित व्यवस्था की गई है। मंदिर की सराय में लगभग 300 से अधिक पर्यटकों के ठहरने की उचित व्यवस्था है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप कई प्रकार की गतिविधियों में व्यस्त रहेंगे। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आ जाने से मन में राहत रहेगी। धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में महत्वपूर्ण...

और पढ़ें

Advertisement