पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अनंतनाग में सेना और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में शहीद हुआ सराेह गांव का अनिल जसवाल

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • छह साल पहले हुआ था 13 जैक राइफल्स में भर्ती
  • दो दिन पहले मनाया जन्मदिन, सोमवार को हुई शहादत
Advertisement
Advertisement

ऊना. ऊना जिला के सरोह गांव का सैनिक अनिल जसवाल अनंतनाग (जेएंडके) में हुई आतंकी मुठभेड़ में देश पर कुर्बान हो गया। वह 13 जैक राइफल में तैनात था। उसकी शहदत से क्षेत्र में शोक की लहर है। वह अपने पीछे पत्नी, पांच माह का एक बेटा और माता पिता छोड़ गए हैं।

 

बुधवार को अनिल का शव उनके पैतृक गांव पहुचने की संभावना है। जहां पूरे राजकीय सम्मान से उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। बंगाणा के एसडीएम संजीव कुमार ने बताया कि इस बारे प्रशासन लगातार आर्मी हेडक्वार्टर के संपर्क में है।

 

मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार को अनंतनाग जेएंडके में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। जिसमें एक मेजर और दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए थे। उन्हें उपचार के लिए आर्मी के अस्पताल लाया गया, जहां मेजर और सैनिक अनिल जसवाल ने दम तोड़ दिया।

 

शहीद सैनिक के पिता अशोक कुमार भी सेना में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। अनिल लगभग छह साल पहले 13 जैक राइफल्स में भर्ती हुआ था। दो साल पहले उसकी श्वेता के साथ शादी हुई थी। उसका पांच महीने का एक बेटा भी है। अनिल मई माह में अपने घर छुट्‌टी आया था। लगभग दो हफ्ते पहले ही पहले ही डयूटी ज्वाइन की थी।

 

दो दिन पहले उसका जन्मदिन भी था। लेकिन सोमवार को अनंतनाग में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में शहदत का जाम पिया। इधर, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने सैनिक अनिल जसवाल की शहादत पर गहरा दु:ख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार दु:ख की इस घड़ी में शहीद सैनिक परिवार के साथ खड़ी है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement