विधानसभा / मंडी के नेरचौक में स्थापित की जाएगी अटल मेडीकल यूनिवर्सिटी



Atal Medical University will be established in Nerchowk of Mandi.
X
Atal Medical University will be established in Nerchowk of Mandi.

  • हिमाचल प्रदेश मेडिकल यूनिवर्सिटी संशोधित विधेयक सदन में पेश
  • संस्कृत  को मिला प्रदेश की राजभाषा का दर्जा

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 04:00 PM IST

शिमला. विधानसभा के दसवें दिन स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार ने एचपी मेडीकल यूनिवर्सिटी संशोधित बिल-2019 पेश किया। गौर हो कि मौजूदा सरकार से पहले वीरभद्र सरकार के दौरान 2017 के बजट सत्र में पारित मेडिकल यूनिवर्सिटी के इस बिल में अब जयराम सरकार ने संशोधिन किया है। बिल के मुताबिक मंडी के नेरचौक स्थित ईएससीआई मेडिकल कॉलेज कैंपस में पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के नाम से मंडी के नेरचौक में मेडीकल यूनिवर्सिटी स्थापित की जाएगी।

 

इस यूनिवर्सिटी में वाइस चांसलर के पद के लिए 70 साल तक की आयु तय की गई है। हिमाचल प्रदेश के आईजीएमसी, टीएमसी और दूसरे सरकारी मेडिकल कॉलेजों से रिटायर हुए डॉक्टर्स को यहां वीसी की कुर्सी दी जाएगी। मौजूदा समय में हिमाचल के सभी सरकारी मेडीकल कॉलेज और नर्सिंग इंस्टीट्यूशंस एचपी यूनिवर्सिटी के अधीन है। पर इनकी बढ़ती संख्या को देखते हुए सरकार इनके संचालन के लिए मेडिकल एजुकेशन में स्वायत्त संस्था बनाने जा रही है।  इसके साथ ही संस्कृत को हिमाचल प्रदेश की राजभाषा का दर्जा देने के लिए सीएम जयराम ठाकुर ने गुरुवार को सदन में हिमाचल प्रदेश राजभाषा अधिनियम विधेयक पेश किया। सरकार ने राजभाषा अधिनियम 1975 में भी संशोधन किया है जिसके मुताबिक अधिकतर भारतीय भाषाएं संस्कृत भाषा से निकली हैं। दूसरी ओर आम जनता और बुद्धिजीवियों में संस्कृत के अधिक इस्तेमाल को देखते हुए प्रदेश की राजभाषा भी संस्कृत होगी।

COMMENT