हिमाचल / गंगा की तर्ज पर ब्यास का होगा जीर्णोद्धार, लोगों से लेंगे सुझाव

Beas river will be renovated as per Ganga river, suggestions will be taken from people.
X
Beas river will be renovated as per Ganga river, suggestions will be taken from people.

  • पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट के तहत ब्यास नदी के लिए तैयार होगी अरबों रुपए की डीपीआर, शुरू हुई प्रक्रिया
  • इसके लिए वेबपोर्ट बनेगा और फील्ड में जाकर भी स्थानीय निकायों के जनप्रतिनिधियों व आम लोगाें के साथ सीधा संवाद किया जाएगा

दैनिक भास्कर

Aug 06, 2019, 02:46 PM IST

कुल्लू. भले ही अभी तक ब्यास के तटीकरण की परियोजना सिरे नहीं चढ़ पाई है, लेकिन अब ब्यास यानि विपाशा नदी को संरक्षित करने के लिए गंगा की तर्ज पर जीर्णोद्वार, संरक्षण और समग्र एवं संतुलित विकास करने के लिए योजना पर काम करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

 

पीएम मोदी के इस ड्रीम प्रोजेक्ट के तहत ब्यास नदी के लिए अरबों रुपए की डीपीआर तैयार की जाएगी। इसके लिए हिमालयन वन अनुसंधान संस्थान (एचएफआरआई) ने आवश्यक प्रक्रिया शुरू कर दी है।

डीपीआर में पर्यावरण व जल संरक्षण, बाढ़ नियंत्रण, पौधारोपण, कृषि-बागवानी, स्थानीय निवासियों की आजीविका और समग्र विकास के अन्य सभी पहलुओं को भी शामिल किया जाएगा।

 

हिमालयन वन अनुसंधान संस्थान ने गंगा की तर्ज पर ब्यास नदी पर काम करने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है। प्रक्रिया के तहत एचएफआरआई ने कुल्लू में वन्य प्राणी विंग के सम्मेलन कक्ष में एक परामर्श बैठक आयोजित की।

डीपीआर के समन्वयक डाॅ. विनीत जिस्टू ने बताया कि डीपीआर के लिए वेब पोर्टल को विशेष रूप से बनाया जाएगा और इसमें सभी लोगों के सुझाव स्वीकार किए जाएंगे।

 

फील्ड में जाकर भी स्थानीय निकायों के जनप्रतिनिधियों तथा आम लोगाें के साथ सीधा संवाद किया जाएगा। आने वाले दिनों में मंडी और ब्यास बेसिन में आने वाले अन्य जिलों में भी इसी तरह की परामर्श बैठक आयोजित की जाएगी।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना