हिमाचल / बजट सत्र से पहले हो सकता है मंत्रिमंडल विस्‍तार, नूरपुर में सीएम जयराम ठाकुर ने स्‍पष्‍ट की स्थिति

पत्रकारों को संबोधित करते मुख्यमंत्री, साथ में कैबिनेट मंत्री विपिन परमार पत्रकारों को संबोधित करते मुख्यमंत्री, साथ में कैबिनेट मंत्री विपिन परमार
X
पत्रकारों को संबोधित करते मुख्यमंत्री, साथ में कैबिनेट मंत्री विपिन परमारपत्रकारों को संबोधित करते मुख्यमंत्री, साथ में कैबिनेट मंत्री विपिन परमार

  • बोले सीएम- प्रदेश की खस्ताहाल आर्थिक स्थिति से लिए कांग्रेस जिम्मेदार
  • कहा, कांग्रेस की सरकार होती तो इस समय कर्ज 60 हजार करोड़ से ऊपर हो जाता

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2020, 02:27 PM IST

नूरपुर. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार विधानसभा के बजट सत्र से पहले संभावित है। आज नूरपुर में पत्रकाराें से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले कुछ कारणों के चलते मंत्रिमंडल विस्तार नहीं हो पाया है।

अब विधानसभा के बजट सत्र से पहले मंत्रिमंडल विस्तार व विधानसभा का नया अध्यक्ष चुना जाएगा। सीएम पत्रकार वार्ता में मंत्रिमंडल विस्तार पर पूछे गए प्रश्न पर प्रतिक्रिया दे रहे थे।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की खस्ताहाल आर्थिक स्थिति से लिए कांग्रेस जिम्मेदार है, जबकि उनकी सरकार तो कंजूसी से कर्ज ले रही है। लेकिन भाजपा की जगह यदि कांग्रेस की सरकार होती तो इस समय कर्ज 60 हजार करोड़ से ऊपर हो जाता।

उन्होंने यह माना कि कर्ज लेना मजबूरी है, लेकिन इसे अंधाधुंध तरीके से नहीं लिया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा पेयजल दरों में हर साल हो रही 10 फीसद बढ़ोतरी के मामले पर विचार किया जाएगा। सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा हो।

नूरपुर सहित प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों में विशेषज्ञ चिकित्सकों की कमी को लेकर पूछे प्रश्न के जबाव में मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में 6 मेडिकल कॉलेज खुलने के कारण अधिकांश विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती मेडिकल कॉलेजों में हुई है, एक साल के भीतर मेडिकल कॉलेजों से विशेषज्ञ चिकित्सकों के बैच निकलने शुरू हो जाएंगे, जिससे नूरपुर सहित अन्य स्वास्थ्य संस्थानों में विशेषज्ञ चिकित्सकों की कमी पूरी हो जाएगी। सरकार नशा निवारण केंद्रों को मजबूत करेगी, ताकि वहां दाखिल होने वाले लोगों को नशों से मुक्ति मिल सके। उन्होंने कहा कि आगामी बजट में इस संदर्भ में नीति बनाई जाएगी।

केंद्र सरकार के 2400 करोड़ रुपए के उद्यान प्रोजेक्ट में होगा कांगड़ा शामिल

बोले, केंद्र सरकार के 2400 करोड़ रुपए के उद्यान प्रोजेक्ट में कांगडा जिला को भी शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जब उन्हें यह पता चला कि इस प्रोजेक्ट में कांगड़ा जिला शामिल नहीं है तो उन्होंने अधिकारियों को कांगड़ा जिला को इस प्रोजेक्ट में शामिल करने की हिदायत दी है व विभाग इस संदर्भ में औपचारिकताओं को पूरा कर रहा है। पर्यटन विकास सरकार की प्राथमिकता है व सरकार इस संदर्भ में काम कर रही है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना