हिमाचल / निर्वासित तिब्बती भी सिविल सेवा परीक्षा देने के लिए पात्र , संघ लोक सेवा आयोग ने जारी की संयुक्त अधिसूचना

तिब्बती छात्र युपीएससी का एग्जाम दे पाऐंगे। फाइल फोटो तिब्बती छात्र युपीएससी का एग्जाम दे पाऐंगे। फाइल फोटो
X
तिब्बती छात्र युपीएससी का एग्जाम दे पाऐंगे। फाइल फोटोतिब्बती छात्र युपीएससी का एग्जाम दे पाऐंगे। फाइल फोटो

  • तिब्बती छात्र आईएएस, आईपीएस व आईएफएस के लिए कंपीट नहीं कर पाएंगे
  • तिब्बती परिवारों के छात्र पात्र होंगे जो पहली जनवरी 1962 से पहले भारत आ गए थे

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2020, 12:54 PM IST

धर्मशाला. भारत में निर्वासन का जीवन व्यतीत करने वाले निर्वासित तिब्बती भी सिविल सेवा परीक्षा देने के लिए पात्र होंगे। इसके लिए वही तिब्बती परिवारों के छात्र पात्र होंगे जो पहली जनवरी 1962 से पहले भारत में आ गए थे। अब वह सिविल सेवा परीक्षा के लिए पात्र माने जाएंगे। लेकिन इसमें वह आईएएस, आईपीएस व आईएफएस के लिए कंपीट नहीं कर पाएंगे।

संघ लोक सेवा आयोग ने इसके लिए यही शर्त रखी है कि वही तिब्बती परिवारों के छात्र पात्र होंगे जो पहली जनवरी, 1962 से पहले स्थायी रूप से बसने के लिए भारत चले आए थे। यूपीएससी की विभिन्न पदों के लिए प्रारंभिक परीक्षा 31 मई 2020 को होनी है।

संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सेवा (प्रारंभिक परीक्षा) 2020 के लिए संयुक्त अधिसूचना जारी कर दी है। नोटिफिकेशन जारी करने के साथ ही सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया भी आरंभ हो गई है। सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा के लिए 3 मार्च की शाम 6 बजे तक ऑनलाइन आवेदन किए जा सकते हैं। सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहे उम्मीदवार यूपीएससी आईएएस नोटिफिकेशन 2020 आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना