हिमाचल / बैजनाथ के उतराला में वन विभाग की टीम ने तीन शिकारियों से बरामद किए सात मृत मोनाल पक्षी

सात मृत मोनाल पक्षियों सहित तीन शिकारियों को पकड़ा सात मृत मोनाल पक्षियों सहित तीन शिकारियों को पकड़ा
हिमाचल का मोनाल पक्षी। फाइल फोटो हिमाचल का मोनाल पक्षी। फाइल फोटो
X
सात मृत मोनाल पक्षियों सहित तीन शिकारियों को पकड़ासात मृत मोनाल पक्षियों सहित तीन शिकारियों को पकड़ा
हिमाचल का मोनाल पक्षी। फाइल फोटोहिमाचल का मोनाल पक्षी। फाइल फोटो

  • पुलिस ने वन्य प्राणी अधिनियम 1972 के अंतर्गत मामला दर्ज कर गिरफ्तार किए आरोपी शिकारी
  • कुल्लवी टोपी पर माेनाल की कलगी को लगाने के लिए किया जाता है शिकार

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2020, 10:14 AM IST

धर्मशाला. बैजनाथ उपमंडल की वन विभाग की टीम ने शुक्रवार को उतराला के नजदीक गांव लौट के पास झोंका नामक जगह पर तीन शिकारियों को सात  मृत मोनाल पक्षियों सहित पकड़ा है। शिकारियों ने माेनाल मार कर थालों में छिपाए थे।

प्रदेश सरकार ने लगभग एक दशक पहले मोनाल को राज्य पक्षी का दर्जा भी प्रदान किया था ताकि दुर्लभ पक्षी का संरक्षण किया जा सके। दुर्लभ पक्षी के संरक्षण के चलते इसे अवैध ढंग से मारना कानूनन अपराध है।

कुल्लवी टोपी पर लगाने के लिए किया जाता शिकार

मोनाल पक्षी के पंख कई रंगाें वाले होते है। इसके सिर पर लगी कलगी को पाने के लिए शिकारी इसका शिकार करते है। मोनाल की कलगी कुल्लवी टोपी पर लगाई जाती है। सुनहरे दिखने वाले इस पक्षी को शिकारी शिकार कर महंगे दामों पर बेचते है।

वन अधिकारी रविंद्र कुमार ने बताया कि वन विभाग की टीम जिसमें वनरक्षक सुनील कुमार, राकेश कुमार पठानिया, वन खंड अधिकारी कुलदीप कुमार जब गांव लौट के पास गश्त कर रहे थे तो उन्हें रास्ते में आते हुए तीन स्थानीय लोग मिले जो पैदल उस रास्ते से जा रहे थे। शक के आधार पर इन तीनों की तलाशी ली तो कंड ग्वार टिक्कर के पराक्रम पुत्र शक्ति से एक मोनाल व दो मादा मोनाल मिले। जबकि राम सिंह सुपुत्र रंचू राम गांब सुहडू कंद्राल से एक नर मोनाल व एक मादा मोनाल मिले। उसी गांव के सुरेश कुमार पुत्र इंद्रजीत से भी एक मोनाल नर व एक मादा मोनाल मिले, जो सभी मृत हालत में उनके बैगों में पाए गए।

उन सभी को वन कर्मी बैजनाथ स्थित वन परिक्षेत्र अधिकारी कार्यालय में ले आए। घटना की सूचना मिलते ही वन मंडल अधिकारी पालमपुर एसके सैन भी पहुंच गए। वन परिक्षेत्र अधिकारी ने रविंद्र कुमार ने पुलिस में इन तीनों शिकारियों के विरुद्ध वन्य प्राणी अधिनियम 1972 के अंतर्गत मामला दर्ज करवा दिया। इस बारे डीएसपी बैजनाथ पूर्ण चंद ठुकराल ने बताया कि पुलिस ने तीनों आरोपियों को हिरासत में लिया है व वन्य प्राणी अधिनियम 1972 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच जारी है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना