सुविधा / शहीद पैरामिलिट्री और सेना के जवानों के परिवारों को अब सरकारी बसों में फ्री यात्रा

Free bus facility for the families of Martyrs of Paramilitary and Army.
X
Free bus facility for the families of Martyrs of Paramilitary and Army.

  • पत्नी बच्चों के अलावा माता-पिता भी कर सकेंगे बाहरी राज्यों तक सफर
  • इस साल हिमाचल परिवहन निगम की बैठक में सुविधा देने के लिए लिया गया था फैसला

Jun 12, 2019, 03:45 PM IST

हमीरपुर. भारतीय सेना में कार्यरत सैनिक और पैरा मिलिट्री फोर्स जवान यदि शहीद होगा तो उसके परिवारों को हिमाचल परिवहन निगम की बसों में नि:शुल्क यात्रा सुविधा होगी। इन शहीद जवानों के पत्नी और 18 साल तक के बच्चों के साथ-साथ माता-पिता को भी यह सुविधा मिल सकेगी। इन आदेशों को तुरंत प्रभाव से शुरू करने को लेकर राज्य के सभी निगम के डिपो अधिकारियों को निर्देश जारी हो गए हैं।

 

इस साल 17 फरवरी को हुई निगम की बीओडी की बैठक में इस सुविधा को देने के लिए फैसला लिया गया था। अब ताजा निर्देशों के तहत कहा गया है कि वह जवान जो किसी भी सेना ऑपरेशन या युद्ध के दौरान शहीद होगा उनके परिवारों को निगम की ओर से जो भी बसें हैं, उनमें यह सुविधा उपलब्ध रहेगी, चाहे यह परिवार राज्य के भीतर या बाहरी राज्यों को परिवार सहित यात्रा कर रहे होंगे, उन्हें नि:शुल्क यात्रा सुविधा मिलेगी।

 

इस सुविधा को शुरू करने के लिए इसलिए भी महत्वपूर्ण फैसला माना जा रहा है, क्योंकि राज्य के करीब 2 लाख जवान इस समय भारतीय सेना और पैरा मिलिट्री फोर्स में नौकरी कर देश की सीमाओं की रक्षा कर रहे हैं। वैसे आंकड़ों पर नजर दौड़ाएं तो इस समय हिमाचल से संबंधित 2 हजार के करीब जवान शहीद हो चुके हैं।

इन्हें भी सुविधा से जोड़ा

यदि किसी जवान का 26 जनवरी या 15 अगस्त को राज्य या राष्ट्रीय स्तर के लिए किसी का चयन अवार्ड के लिए हुआ होगा तो वह निगम की बसों में एक अटेंडेंट के साथ नि:शुल्क सफर कर अवार्ड लेने के लिए जा सकेगा। इन तय दिनों के अलावा दूसरे किसी दिन भी अवार्ड लेने के लिए जाना होगा तो अवार्डी के साथ एक अन्य ऑडिर्नेरी बसों के अलावा दूसरी सभी तरह की सुविधाजनक बसों में नि:शुल्क सफर कर सकेंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना