अनूठी पहल / वेस्ट वस्तुएं लाने पर शहरवासियों को मुफ्त में मिलेगा पिज्जा, बर्गर, आईसक्रीम

Free ice cream, coffee, pizza, burger offer for bringing waste products.
X
Free ice cream, coffee, pizza, burger offer for bringing waste products.

  • कुल्लू शहर को साफ सुथरा बनाने के लिए वेस्ट-टू-टेस्ट कैफे योजना
  • 10 अगस्त से शुरू होने वाली इस योजना को जिला प्रशासन करेगा मॉनिटर

दैनिक भास्कर

Aug 09, 2019, 03:56 PM IST

कुल्लू. शहर को कचरा मुक्त करने के लिए 10 अगस्त से कुल्लू प्रशासन ने वेस्ट-टू-टेस्ट नाम की एक अनूठी पहल शुरू करने जा रहा है। योजना का संचालन हालांकि नगर परिषद द्वारा किया जाना है परंतु जिला प्रशासन इसे मोनिटर करेगा। योजना में वेस्ट मैटिरियल लाने वाले को व्यंजन परोसे जाएंगे।

 

वेस्ट मैटिरयल लाने वाले को एक कूपन दिया जाएगा और जिस कैफे का चयन किया गया है उस कैफे में कूपन देने पर उस व्यक्ति को अलग-अलग व्यंजन मिल सकेंगें। लिहाजा, वेस्ट वस्तुओं को एकत्रित करने के लिए यह योजना कारगर साबित हो सकती है। शहर का कोई भी व्यक्ति इन वेस्ट वस्तुओं को एकत्रित कर नगर परिषद द्वारा निर्धारित किए जाने वाले स्थान पर पहुंचा सकता है। इससे आम लोगों का भी शहर को साफ सुथरा करने में योगदान होगा।


शहर को स्वच्छ रखना सभी नागरिकों की जिम्मेवारी: डीसी कुल्लू ऋचा वर्मा ने सभी नागरिकों से अपील की है कि वे अपने घरों में अथवा आस-पास पड़े कचरे को जमा करवाकर व्यंजनों का आनंद उठाएं और शहर को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान दें। कचरे को लोग जगह-जगह फेंक रहे हैं जिससे न केवल शहर दूषित हो रहा है, बल्कि जल स्रोतों पर भी बुरा प्रभाव पड़ रहा है। कुल्लू-मनाली हर वर्ष लाखों देसी व विदेशी सैलानी आते हैं और ऐसे में प्रत्येक व्यक्ति की जिम्मेवारी बनती है कि वह कूड़ा-कचरा हर कहीं पर न डालें, बल्कि ठोस व तरल कूड़ा अलग-अलग से नगर परिषद के कर्मियों को दें।


ये व्यंजन मिलेंगे वेस्ट वस्तुएं लाने पर: वेस्ट वस्तुओं को उपलब्ध करवाने वाले किसी भी व्यक्ति को इन व्यंजनों में काॅफी, सिड्डू, आइसक्रीम, पिज्जा, बर्गर एवं परिवार के चार सदस्यों को शानदार डिनर का प्रावधान है। इन व्यंजनों को प्राप्त करने के लिए मुफ्त कूपन सरवरी स्थित एमआरएफ स्थल पर घर की कुछ बेकार वस्तुओं को जमा करवाना पर मिलेगा। उसके बाद कुल्लू शहर के इन चयनित संस्थानों में व्यंजन प्राप्त किए जा सकते हैं जिनमें कुबेर फाॅस्ट फूड, ज्ञानी आईस क्रीम, बुक कैफे और सिटी च्वाईस होटल शामिल हैं।

 

व्यंजन पाने के लिए यह होगी शर्त: काॅफी के लिए तीन किलो कांच, आधा किलो प्लास्टिक, दो किलो गत्ता व एक किलो ई.वेस्ट में से कोई एक वस्तु जमा करवानी होगी। बर्गर, सिड्डू व मोमो के लिए चार किलो कांच, एक किलो प्लास्टिक, तीन किलो गत्ता व दो किलो ई.वेस्ट में से कोई एक वस्तु, लंच अथवा सैंडविच के लिए ये वस्तुएं क्रमशः पांच किलो, डेढ़ किलो, चार किलो व तीन किलो में कोई एक जमा करवानी होगी। इसी प्रकार परिवार सहित रात्रि भोज के लिए 10 किलो कांच अथवा, तीन किलो प्लास्टिक अथवा सात किलो गत्ता अथवा छः किलो ई.कचरा देना होगा।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना