हिमाचल / पत्र बम को लेकर स्वास्थय मंत्री विपिन परमार ने चुप्पी तोड़ी, बोले सभी आरोप मनगढ़ंत



स्वास्थय मंत्री विपिन परमार(फाइल फोटो) स्वास्थय मंत्री विपिन परमार(फाइल फोटो)
X
स्वास्थय मंत्री विपिन परमार(फाइल फोटो)स्वास्थय मंत्री विपिन परमार(फाइल फोटो)

  • बोले,  बेहतर होता अगर पत्र में लगाए आरोपों के साथ सबूत भी करते पेश

Dainik Bhaskar

Sep 16, 2019, 03:04 PM IST

शिमला. भाजपा में पत्र बम काे लेकर मचे घमासान के बीच स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार ने अपनी चुप्पी ताेड़ते हुए इसे एक अाेछी राजनीति करार दिया है। शिमला में पत्रकार वार्ता के दाैरान मंत्री ने कहा कि इसमें लगे सारे आरोप मनगढ़ंत हैं।

 

उन्होंने कहा कि पत्र बम की पुलिस जांच हो रही है और कुछ दिनों में सारी स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। जाे पत्र बम इन दिनों चर्चा में है, ऐसे पत्र पहले भी छपते रहे हैं और सार्वजनिक होते रहे हैं। पत्र में जो आरोप लगाए गए हैं, वे निराधार हैं और स्वास्थ्य विभाग इस मामले पर पहले ही स्थिति स्पष्ट कर चुका है।

 

बेहतर होता कि पत्र में लगाए आरोपों के साथ सबूत भी देते। उन्होंने कहा कि जिस मोबाइल से पत्र सर्कुलेट हुआ है, उसकी भी जांच हो रही है। मोबाइल से कई तथ्य बाहर निकलेंगे और सच क्या है वह सबके सामने आएगा।

 

उन्होंने कहा कि पत्र वाला मामला सोची समझी रणनीति से उछाला गया है और उन्हें बदनाम करने की साजिश रची गई है। परमार ने कहा कि पुलिस में जो शिकायत दर्ज है वह भी किसी व्यक्ति के खिलाफ नहीं है, बल्कि जो सर्कुलेट हुआ है, उसे लेकर है और ऐसे में कुछ दिन इंतजार करना उचित होगा और जांच में सारी बातें स्पष्ट हो जाएगी।

यह है पूरा मामला: कुछ दिन पहले कांगड़ा जिले के पालमपुर में एक पत्र सोशल मीडिया में जारी हुआ था। पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार के नाम से लिखे गए पत्र में दो मंत्रियों पर भ्रष्टाचार के कथित आरोप लगाए गए थे। विपिन सिंह परमार के एक समर्थक ने इस मामले में पुलिस में मामला दर्ज करवाया था और इस मामले में पूर्व मंत्री रविंद्र रवि के करीबी का नाम आया था और उसके बाद रवि की भी इस मामले में पूछताछ हुई है। वहीं, रवि ने भी इस मामले में उन्हें जबरन घसीटने की बात कही और निष्पक्ष जांच की मांग की है।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना