मिशन / दुर्गम परिस्थितियों को देखते हुए मंडी में तैनात रहेगा हेलीकॉप्टर



Helicopter standby kept on election
X
Helicopter standby kept on election

  • प्रदेश के छह जिलों के 17 विधानसभा क्षेत्र चुनेंगे मंडी का सांसद
  •  चुनाव कराने को प्रशासन की तैयारी पूरी

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 12:28 PM IST

मंडी. देश के दूसरे सबसे बड़े मंडी संसदीय क्षेत्र की दुर्गम भौगोलिक परिस्थितियों को देखते हुए चुनाव प्रक्रिया संपन्न करवाने के लिए एक हेलीकॉप्टर चार दिन तक मंडी में तैनात रहेगा। मंडी लोकसभा क्षेत्र में किन्नौर लाहौल-स्पिति और भरमौर में बर्फबारी के चलते आवाजाही बाधित होने की संभावना को देखते हुए चुनाव आयोग ने यह निर्णय लिया है।

 

इस हेलीकॉप्टर के माध्यम से ईवीएम समेत अन्य चुनाव सामग्री पोलिंग बूथों तक पहुंचाई जाएगी। इसी के चलते 17 से 21 मई तक मंडी में एक हेलीकॉप्टर स्टैंड वाई रखा है। मंडी संसदीय क्षेत्र के लिए 19 मई को होने वाले मतदान को लेकर प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली है। निर्वाचन अधिकारी एवं डीसी रूग्वेद ठाकुर ने कहा कि चुनाव कर्मियों के प्रशिक्षण एवं पूर्वाभ्यास का कार्य किया जा चुका है।

 

17 मई को पोलिंग पार्टियां अपने-अपने मतदान केंद्रों के लिए रवाना होंगी। अब तक रिटर्निंग ऑफिसर को 204 शिकायतें आचार संहिता उल्लघंन के संबंध में मिल चुकी हैं। जिनमें अब तक सभी का निपटारा किया जा चुका है। मंडी संसदीय क्षेत्र से अभी नाकाबंदी के दौरान किसी भी तरह की नगदी बरामद नहीं की गई है।

 

मंडी संसदीय क्षेत्र के तहत 6 जिलों के 17 विधानसभा क्षेत्र आते हैं, इनमें मंडी के 9, कुल्लू के 4, शिमला के रामपुर और चंबा के भरमौर क्षेत्र के साथ किन्नौर एवं लाहुल-स्पीति विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं। मंडी जिला में महिला वोटरों की संख्या पुरुषों से अधिक है। ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि जिला मंडी में इस बार 8 लाख 14 हजार 755 मतदाता उम्मीदवारों का भविष्य तय करेंगे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना