यात्रा / जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में हिमाचल का राेड शाे, कई क्षेत्रों में सहयोग के रास्ते तलाशने को लेकर एमओयू



Himachal Chief Minister signed several MoUs in Germany
X
Himachal Chief Minister signed several MoUs in Germany

  • जर्मन निवेशकों को धर्मशाला में होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर मीट में भाग लेने का न्यौता दिया
  • मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल जर्मनी और नीदरलैंड की यात्रा पर है

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 06:59 PM IST

शिमला. जर्मनी की कंपनियां हिमाचल में आयुर्वेद, जीनाेमिक्स और कृषि जैसे क्षेत्रों में निवेश के लिए तैयार है। बुधवार काे हिमाचल सरकार व फ्रैंकफर्ट इनोवेशन जेंट्रम (एफआईजेड) के बीच एमओयू साइन किया गया। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की मौजूदगी में जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में आयुर्जीनोमिक्स (आयुर्वेदा और जीनोमिक्स), सटीक चिकित्सा, सटीक कृषि जैसे क्षेत्रों में सहयोग के क्षेत्र तलाशने के लिए यह एमओयू साइन किया गया है।

 

राज्य में निवेशकों को आकर्षित करने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल जर्मनी और नीदरलैंड की यात्रा पर है। जर्मनी में हिमाचल की ओर से एक रोड शो का भी आयोजन किया गया। रोड शो को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में पर्यटन, उद्योग, सूचना प्रौद्योगिकी, सेवा क्षेत्र, खाद्य प्रसंस्करण, फार्मा और बिजली जैसे क्षेत्रों में निवेश की अपार संभावनाएं उपलब्ध हैं।

 

हिमाचल में विभिन्न जलवायु परिस्थितियां और विविध भौगोलिक परिस्थितियां औषधीय पौधों की खेती के लिए अनुकूल है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सभी इच्छुक उद्यमियों को राज्य में अपनी औद्योगिक इकाइयां स्थापित करने के लिए हर संभव सहायता प्रदान करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने जर्मनी में रोड शो का आयोजन इसलिए करवाया है क्योंकि 'मेड इन जर्मनी' ट्रेडमार्क की गुणवत्ता विश्व विख्यात है और हिमाचल सरकार इसका अनुसरण राज्य में करना चाहती है। उन्होंने कहा कि जर्मनी की कंपनियां योजना बनाने में विशेषज्ञ हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में भी इस विशेषज्ञता को लागू करने के लिए हिमाचल जर्मनी की कम्पनियों का सहयोग चाहता है। उन्होंने जर्मन निवेशकों को धर्मशाला में पहली बार आयोजित होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर मीट में भाग लेने का निमंत्रण दिया।

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना