स्थापना दिवस / 50 साल का हुआ हिमाचल प्रदेश; रिज मैदान से इंदिरा गांधी ने की थी देश के 18वें राज्य की घोषणा

कड़ाके की ठंड में भी यह घोषणा सुनने के लिए रिज मैदान पर हजारों लोग जमा थे। कड़ाके की ठंड में भी यह घोषणा सुनने के लिए रिज मैदान पर हजारों लोग जमा थे।
X
कड़ाके की ठंड में भी यह घोषणा सुनने के लिए रिज मैदान पर हजारों लोग जमा थे।कड़ाके की ठंड में भी यह घोषणा सुनने के लिए रिज मैदान पर हजारों लोग जमा थे।

  • हिमाचल प्रदेश बनने के बाद लेडीज पार्क में हुए कार्यक्रम में तत्कालीन मुख्यमंत्री डा. वाईएस परमार खूब झूमे थे
  • 26 जनवरी 1950 को हिमाचल को पार्ट सी स्टेट का दर्जा मिला था, 1 नवंबर 1956 को केंद्र शासित राज्य बना था

दैनिक भास्कर

Jan 25, 2020, 01:17 PM IST

धर्मशाला. 25 जनवरी 1971 को हिमाचल प्रदेश को अलग राज्य का दर्जा मिला था। शिमला के रिज मैदान में हुई जनसभा में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने देश के 18 वें राज्य के तौर पर हिमाचल प्रदेश की घोषणा की थी। इससे पहले हिमाचल केंद्र शासित प्रदेश था। बताया जाता है कि अलग राज्य की घोषणा के बाद लेडीज पार्क में चल रहे कार्यक्रम में तत्कालीन मुख्यमंत्री डा. वाईएस परमार भी खूब झूमे थे।

आज हिमाचल को अलग राज्य बने 50 साल पूरे हो चुके हैं। 50वें पूर्ण राज्य दिवस के अवसर पर 25 जनवरी 2020 को राज्य स्तरीय समारोह बिलासपुर जिला के झंडूता में आयोजित किया जाएगा। इस समारोह की अध्यक्षता मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर करेंगे। झंडूता में आयोजित पूर्ण राज्य दिवस कार्यक्रम के दौरान जहां पुलिस बल की टुकड़ियों सहित एनएसएस व एनसीसी के छात्रों की टुकड़ियां भी मुख्यमंत्री को मार्चपास्ट की सलामी देंगी तो साथ ही प्रदेश की विभिन्न संस्कृतियों को पेश करती लोकनृत्य व गीतों की भी प्रस्तुतियां दी जाएंगी।

हिमाचल का इतिहास

  • 15 अप्रैल 1948 को हिमाचल अस्तित्व में आया
  • 26 जनवरी 1950 को हिमाचल को पार्ट सी स्टेट का दर्जा मिला
  • 1 जुलाई 1954 को बिलासपुर हिमाचल का हिस्सा बना
  • 1 नवंबर 1956 को हिमाचल को केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया
  • 1 नवंबर 1966 को पंजाब के कई हिस्से कांगड़ा समेत हिमाचल में शामिल हुए
  • 18 दिसंबर 1970 को हिमाचल प्रदेश एक्ट पास किया गया
  • 25 जनवरी 1971 को हिमाचल को पूर्ण राज्य का दर्जा मिला

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना