हिमाचल / इन्वेस्टर मीट को लेकर सीएम जयराम बोले, यूएई इन्वेस्टर मीट में बनेगा पार्टनर, जर्मनी निवेशक भेजने को तैयार



सीएम हिमाचल जयराम ठाकुर सीएम हिमाचल जयराम ठाकुर
X
सीएम हिमाचल जयराम ठाकुरसीएम हिमाचल जयराम ठाकुर

  •  समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री बोले-3 हफ्ते बचे, अब ग्राउंड पर काम हो

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2019, 12:40 PM IST

शिमला. धर्मशाला में 7 और 8 नवंबर काे हाेने वाले ग्लोबल इन्वेस्टर मीट में संयुक्त अरब अमीरात ने भागीदार देश बनने के लिए अपनी सहमति जताई है। जर्मनी के निवेशकों ने भी इवेंट में आने की कन्फर्मेशन दी है। वहीं केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय, केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय और विदेश मंत्रालय ने भी इस मेगा इवेंट में भागीदार की भूमिका निभाने का आश्वासन दिया है।

 

यह जानकारी मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने वीरवार काे ग्लाेबल इन्वेस्टर मीट की तैयारियाें काे लेकर आयाेजित की गई समीक्षा बैठक के दाैरान दी।
मुख्यमंत्री ने इस इवेंट के सफल आयाेजन के लिए अधिकारियाें काे निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि इवेंट के लिए तीन हफ्ते से भी कम का समय रह गया है। सभी अधिकारियाें काे इस इवेंट की तैयारियों में पूरी तरह से जुट जाना चाहिए। इवेंट के आयाेजन में काेई कमी न रहे, इसके लिए अधिकारियों काे अब ग्राउंड पर ध्यान देने की जरूरत बताई और आयाेजन की सफलता के लिए अपना बेस्ट देने काे कहा।

 

पीएम माेदी और अमित शाह बढ़ाएंगे आयाेजन की शाेभा
राज्य सरकार के इस मेगा इंवेट में पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह सहित कई अन्य केंद्रीय मंत्री भी हिमाचल आ रहे हैं। इस आयोजन में अनेक बड़े पूंजीपति और विभिन्न देशों के राजदूत भी भाग लेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने इस इवेंट के लिए जाे टारगेट तय किए है सरकार उसे अचीव करेगी।

 

इसके लिए भूमि, पानी और बिजली की पुरी सुविधा दी जाएगी। सीएम ने कहा कि यह नया काम है और सरकार इस दिशा में आगे बढ़ी है। उन्हाेंने कहा कि यह नई शुरूआत हुई है और इसमें प्राइवेट सेक्टर में भी इन्वेस्टमेंट की काफी संभावना है।

 

इन्वेस्टर मीट के चार दिन गग्गल लैंड करेंगी एक्स्ट्रा फ्लाइट्स 

ग्लाेबल इन्वेस्टर मीट में आने वाले अतिथियों को चंडीगढ़ से गग्गल हवाई अड्डे तक पहुंचाने के लिए चार दिन एक्स्ट्रा फ्लाइट्स उड़ानें भरी जाएंगी। मुख्य सचिव डाॅ. श्रीकांत बाल्दी ने परिवहन समिति को निर्देश दिए हैं कि अतिथियों को चंडीगढ़ से गग्गल हवाई अड्डे तक पहुंचाने के लिए 6 से 9 नवंबर के बीच दिल्ली से धर्मशाला के लिए अतिरिक्त उड़ानों का उचित प्रावधान करें।

 

यह एक्स्ट्रा फ्लाइट्स राजदूताें और वीवीआईपी की कन्फर्मेशन के साथ ही हाेगी। निवेशकों और अन्य लोगाें की सुविधा के लिए विभिन्न हवाई अड्डों पर सहायता काउंटर स्थापित करने काे भी कहा है। मुख्य सचिव डाॅ श्रीकांत बाल्दी ने इन्वेस्टर मीट काे लेकर अधिकारियाें से अलग से समीक्षा बैठक की और उन्हें निर्देश जारी किए।

 

निवेशकों के लिए पोर्टल आरंभ किया

निवेशकों को ऑनलाइन निगरानी, ट्रैकिंग तथा त्वरित सुविधा प्रदान करने के लिए 'हिम प्रगति' पोर्टल आरम्भ किया है। सरकार ने इस पोर्टल पर सभी समझौता ज्ञापन अपलोड कर दिए है। निवेशकों को आकर्षित करने के लिए प्रदेश को देश का निवेशक 'हब' बनाया जाएगा। 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना