चंडीगढ़ / स्पाइस जेट-इंडियन एयरलाइंस से आएंगे इन्वेस्टर और मेहमान, विशेष व्यवस्था की जा रही सरकार की ओर से



हिमाचल इंवेस्टर मीट को लेकर तैयारी। डेमो फोटो हिमाचल इंवेस्टर मीट को लेकर तैयारी। डेमो फोटो
X
हिमाचल इंवेस्टर मीट को लेकर तैयारी। डेमो फोटोहिमाचल इंवेस्टर मीट को लेकर तैयारी। डेमो फोटो

  • सरकार ने सिविल एविएशन मिनिस्ट्री को भेजा प्रस्ताव
  • पवन हंस हैलीकॉप्टर की सेवाऐं भी ली जा सकती है

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2019, 11:29 AM IST

शिमला(पूनम भारद्वाज). ग्लाेबल इन्वेस्टर मीट में वीवीआईपी और विदेशी मेहमानाें काे लाने के लिए सरकार ने स्पाइस जेट और एयर इंडिया से हवाई सेवा उपलब्ध करवाने की मांग की है। इन्वेस्टर मीट के लिए राज्य सरकार की ओर से गठित परिवहन समिति ने केंद्रीय उड्डयन मंत्रालय काे पत्र लिखकर उचित हवाई सेवा उपलब्ध करवाने का आग्रह किया है।

 

समिति ने केंद्र सरकार से इन्वेस्टर मीट के दाैरान 6 से 9 नवंबर तक के लिए केंद्र सरकार से हेलीकाॅप्टर या छाेटे विमान उपलब्ध करवाने का आग्रह किया है। हालांकि स्पाइस जेट की धर्मशाला आने वाली उड़ान पिछले काफी समय से बंद है, सरकार ने स्पाइस जेट से इस इवेंट के लिए अपनी उड़ानाें काे फिर से शुरू करने का आग्रह किया है।

 

ग्लाेबल इन्वेस्टर मीट के लिए राज्य सरकार ने देश-विदेश के 2000 से अधिक लाेगाें काे निमंत्रण पत्र भेजा गया है। इनमें से 250 अति से अति विशिष्ट मेहमानाें के आने की कंफर्मेशन सरकार काे मिल गई है। इसमें 20 देशाें के राजदूत भी शामिल हैं। सरकार ने परिवहन समिति काे चंडीगढ़ से गग्गल एयरपाेर्ट तक हेलीकाॅप्टर या हवाई जहाज में लाने की जिम्मेदारी साैंपी है। समिति ने इसे लेकर तैयारियां शुरू कर दी है।

 

जरूरत पड़ी ताे राज्य सरकार पवन हंस से भी लेगी मदद
इवेंट में आने के लिए सरकार काे जैसे-जैसे विदेशी मेहमानाें की कंफर्मेशन मिलती रहेगी उसी आधार पर हवाई जहाज की उचित व्यवस्था की जाएगी। इसे लेकर परिवहन समिति ने पवन हंस से भी मदद मांगी है। पवन हंस से सरकार जरूरत पड़ने पर हेलीकॉप्टर की सेवाएं लेगा, इसके लिए सरकार कंपनी काे अलग से इसकी पेमेंट करेगा। अभी पवन हंस मुख्यमंत्री काे हेलीकाॅप्टर की सेवाएं दे रहा है। सरकार अब ग्लाेबल इन्वेस्टर मीट के लिए भी कंपनी की मदद लेगा।

इस बारे में सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव देवेश कुमार ने बताया कि

ग्लाेबल इन्वेस्टर मीट में अति विशिष्ट मेहमानाें को लाने के लिए हवाई सेवा की उचित व्यवस्था की जा रही है। इसे लेकर केंद्रीय उड्डयन मंत्रालय काे पत्र लिख आग्रह किया है। स्पाइस जेट से भी आग्रह किया गया है। जरूरत पड़ने पर पवन हंस की भी मदद ली जाएगी। 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना