मौसम / लाहौल-स्पीति में जमने लगीं झीलें, काजा घाटी में न्यूनतम तापमान -18 डिग्री पहुंचा

X

  • हिमाचल के ऊंचे इलाकों में बर्फबारी से तापमान में काफी गिरावट आई है
  • हिमपात से जगह-जगह मार्ग भी अवरुद्ध, प्रशासन व्यवस्थाएं बनाने में जुटा

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 01:15 PM IST

कुल्लू. हिमाचल के ऊंचे इलाकों में बर्फबारी ने तापमान में भारी गिरावट ला दी है। लाहौल स्पीति में झीलें और तालाब जमने लगे हैं। काजा घाटी में सबसे ज्यादा बर्फबारी दर्ज की गई है। काजा उपमंडल में न्यूनतम तापमान -18 डिग्री और अधिकतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस के आसपास है। हिमपात के कारण जगह-जगह मार्ग भी अवरुद्ध हैं।

काजा घाटी में सबसे ज्यादा बर्फबारी

भाखड़ा ब्यास प्रबंधन बोर्ड के काजा स्थित कार्यालय के इंचार्ज सनी राणा ने प्रशासन को खराब मौसम की जानकारी दी है। एडीएम ज्ञान सागर ने कहा कि काजा में सबसे ज्यादा तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। लाहौल-स्पीति क्षेत्र के कई गांवों में तापमान काफी नीचे चला गया है। प्रशासन की ओर से लोगों को मदद मुहैया कराने के पूरे प्रयास किए जा रहे हैं। एडवांस में ही लोगों को खाद्य वस्तुएं, लकड़ी, मिट्टी का तेल आदि की आपूर्ति कर दी गई है। कई जगह पर स्टोर हैं, जहां से लकड़ी ग्रामीण आसानी से खरीद सकते हैं।

प्रशासन की अपील, घूमने आने से पहले मौसम की जानकारी लें पर्यटक

एडीएम ने कहा- अभी दिसंबर की शुरूआत में ही तापमान काफी नीचे चला गया है। प्रशासन की ओर से पर्यटकों से अपील की गई है कि मौसम की जानकारी लेने के बाद ही स्पीति घूमने आएं। जिन क्षेत्रों में भारी बर्फबारी हुई है, वहां पर मार्ग खोलने का कार्य तीव्र गति से चला है। इसके साथ ही जगह-जगह पीडब्ल्यूडी की मशीनरी तैनात की गई है। समदो से काजा तक का मार्ग बहाल हो चुका है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना