हिमाचल / प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट की मीटिंग में नहीं आईं 68 कंपनियां, पॉल्यूशन बोर्ड का नोटिस



पॉल्यूशन खत्म करने के लिए प्लास्टिक को खत्म करें। फाइल फोटो पॉल्यूशन खत्म करने के लिए प्लास्टिक को खत्म करें। फाइल फोटो
X
पॉल्यूशन खत्म करने के लिए प्लास्टिक को खत्म करें। फाइल फोटोपॉल्यूशन खत्म करने के लिए प्लास्टिक को खत्म करें। फाइल फोटो

  • बोर्ड ने 88 कंपनियों को बुलाया था, पहुंची महज 20, जवाब के लिए दिए 7 दिन
  • कंपनियों को सख्त हिदायतें दी गई, पर्यावरण को नुकसान न पहुंचाए

Dainik Bhaskar

Sep 21, 2019, 01:11 PM IST

शिमला. प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट की बैठक में भाग न लेने पर प्रदूषण नियंत्रण बाेर्ड ने 68 कंपनियों काे शाे-काेज नाेटिस जारी किए है। यह वाे कंपनियां हैं जाे हिमाचल में प्लास्टिक की बाेतलाें और पैकेट में अपना उत्पाद बेच रहे हैं।

 

बाेर्ड ने प्लास्टिक पैकिंग में उत्पाद बेचने वाली 88 कंपनियाें काे बैठक में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया था, लेकिन इसमें से महज 20 कंपनियाें के प्रतिनिधियाें ने ही बाेर्ड की बैठक में भाग लिया।

 

बाेर्ड ने संबंधित सभी कंपनियाें काे जवाब देने के लिए सात दिन का समय दिया है। इसमें बाेर्ड ने जानना चाहा है कि बैठक में भाग न लेने पर उनके विरूद्ध कार्रवाई क्याें न की जाए। संताेषजनक जवाब न मिलने पर बाेर्ड कंपनियाें के खिलाफ उचित कार्यवाही करेगा।

 

बाेर्ड ने जिन कंपनियों काे नाेटिस जारी किए है उनमें से अधिकांश कंपनियां ऊना, परवाणू, बद्दी, नालागढ़ क्षेत्र की हैं जाे पानी और चाॅक्लेटस सहित कई उत्पाद प्लास्टिक की पैकिंग में बेच रहे हैं।

 

कचरे के प्रबंधन पर एनजीटी लगा चुका है फटकार
भले ही प्रदेश पाॅलिथीन मुक्त राज्य बन गया हाे लेकिन यहां पर अभी भी प्लास्टिक की पैकिंग में सामान बिक रहा है। प्लास्टिक कचरे का उचित प्रबंधन न हाे पाने के लिए यह सरकार और विभाग के लिए बड़ी चुनाैती बन गया है। प्लास्टिक कचरे से पर्यावारण काे पहुंच रहे नुकसान काे समाप्त करने के लिए नेशनल ग्रीन ट्रिब्यनूल कई बार सरकार और बाेर्ड काे फटकार लगा चुका है।

 

इसे ध्यान में रखते हुए बाेर्ड ने प्लास्टिक कचरे काे लेकर अपना रुख कड़ा कर दिया है और कंपनियाें काे सख्त आदेश जारी कर दिए है कि उनका प्लास्टिक पर्यावरण काे नुकसान न पहुंचाए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना