हिमाचल / प्रदेश के किसान ने खुद तैयार की एप्पल की वैरायटी, 4800 में बिका 20 किलो का बॉक्स



प्रेम चौहान ने नई तकनीक से सेब उगाया। प्रेम चौहान ने नई तकनीक से सेब उगाया।
X
प्रेम चौहान ने नई तकनीक से सेब उगाया।प्रेम चौहान ने नई तकनीक से सेब उगाया।

  • कोटखाई के बागवान प्रेम चौहान ने उगाया ये सेब,अब पेटेंट के लिए किया अप्लाई

Dainik Bhaskar

Sep 30, 2019, 01:48 PM IST

शिमला. प्रदेश के कोटखाई में जलटाहर के रहने वाले बागवान प्रेम चौहान ने खुद सेब की एक नई किस्म तैयार की है। यह सेब इस बार रिकार्ड तोड़ 4800 रुपए प्रति पेटी के हिसाब से बिका है। हाई क्वालिटी के इस सेब की दुबई जैसे देशों से भी भारी मांग आ रही है। प्रेम चौहान सेब का पेटेंट भी करवा रहे हैं।


ज्यादा चमक और स्वादिष्ट

इस सेब की खासियत यह है कि इसका हाई कलर स्ट्रेन, चमक और ज्यादा लाइफ है। प्रेम चौहान ने इस साल शिमला की पराला मंडी में इस सेब को 4800 रुपए प्रति 20 किलो बॉक्स की रिकॉर्ड कीमत पर बेचा है। अबकी बार उन्होंने 250 पेटियां पराला मंडी में बेची हैं। पिछली बार दिल्ली में यही सेब 3800 रुपए प्रति पेटी बिका था जबकि अमेरिका से आयातित वाशिंगटन सेब की एक पेटी 1800 रुपए ही बिक पाई थी। एप्पल फेस्टिवल में भी ये सेब सभी का आकर्षण था।

 

रॉयल के म्यूटेशन से तैयार की वैरायटी

इस सेब को हिमाचल में बड़े स्तर पर उगाए जा रहे रॉयल सेब के म्यूटेशन से तैयार किया गया है। इंटर स्टॉक ग्राफ्टिंग की तकनीक से इस सेब को पैदा किया गया है। रॉयल के पेड़ में म्यूटेशन से तैयार सेब के हिस्से की बीजू पालटी पर ग्राफ्टिंग कर यह किस्म कई सालों की मेहनत के बाद इजाद की गई है। इसे एप्स ब्रांड का नाम दिया है।

 

पौधे की ऊंचाई आठ फुट तक है और इसको तीन फुट की दूरी पर लगाया जाता है। इससे पहले वे अपने बगीचे में रेड विलोक्स, जेरोमाइन, किंग रॉट जैसी विदेशी किस्मों के सेब उगा रहे थे। अब इनको नई किस्म से बदला जा रहा है। प्रेम चौहान ने अपनी 15 बीघा जमीन पर करीब 15 हजार पौधे इसके लगाए हैं।

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना