ट्रैफिक / सैलानियों की बढ़ती संख्या और स्थानीय लोगों की कारों से लग रहा शिमला में रोजाना जाम, प्रशासन सुस्त

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 12:09 PM IST



Shamla jams from the cars of the slums
X
Shamla jams from the cars of the slums

  • गर्मियों में सैलानियों की संख्या के बढ़ने से जाम की स्थिति उत्पन्न होती है
  • स्थानीय प्रशासन ट्रैफिक व्यवस्था सुधारने की बात कहता है

शिमला. राजधानी शिमला में ट्रैफिक जाम से लोगों का राहत नहीं मिल पा रही। शहर में आए दिन ट्रैफिक जाम लग रहा है, जिसमें लोग फंस रहे हैं। वीरवार को भी शहर में जगह-जगह ट्रैफिक जाम लगा। ऑकलैंड टनल के पास भी गाड़ियों की लाइनें लग गईं। इससे काफी समय तक लोग वहां फंसे रहे। छोटा शिमला, बस स्टैंड, विक्ट्री टनल, रेलवे स्टेशन के आसपास भी गाड़ियों की लाइनें लगी रहीं।

 

गर्मियों के शुरू होते ही शिमला सहित आसपास के हिल स्टेशनों पर सैलानियों की संख्या बढ़ जाती है जिससे काफी संख्या में लोग अपने वाहनों सहित आते है। शिमला के अलावा कुफरी सहित अन्य स्थानों पर ट्रैफिक व्यवस्था को सुधारने के लिए स्थानीय पुलिस को प्रयास करना पड़ता है।

 

 

प्रशासन ने शहर में ट्रैफिक सुचारू रुप से चलाने के लेकर कई कदम उठाने का दावा किया है, लेकिन इसका कोई असर शहर में नहीं दिख रहा। स्थानीय लोगों का कहना है कि जाम की स्थिति से बचने के लिए सैलानियों की गाड़ियों के लिए कोई अन्य रास्ता बनाया जाना चाहिए जो शहर में प्रवेश होने के बजाए सीधे बाहर निकल जाए। 
 

 

COMMENT