केंद्र / आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने हिमाचल प्रदेश के पहले आर्ट ऑफ लिविंग सेंटर का किया शिलान्यास



Sri Sri Ravi Shankar, founder of the Art of Living, laid the foundation stone of the first Art of Living Center in Himac
X
Sri Sri Ravi Shankar, founder of the Art of Living, laid the foundation stone of the first Art of Living Center in Himac

  • आर्ट ऑफ लिविंग संस्था 140 देशों में कार्य कर रही है
  • पूजा-अर्चना व हवन यज्ञ मेंं पूर्णाहुति डालकर भूमि पूजन किया

Dainik Bhaskar

Apr 19, 2019, 04:57 PM IST

धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के पहले आर्ट ऑफ लिविंग आध्यात्मिक सेंटर का शिलान्यास शुक्रवार को गोपालपुर के निकट गजरेहड़ा मेंं आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने किया। श्री श्री रविशंकर ने पूजा-अर्चना व् हवन यज्ञ मेंं पूर्णाहुति डालकर भूमि पूजन किया। हिमाचल में आर्ट ऑफ लिविंग का यह पहला केंद्र है। आर्ट ऑफ लिविंग संस्था 140 देशों में कार्य कर रही है। वर्ष 1982 में श्री श्री रविशंकर द्वारा संस्थापित द आर्ट ऑफ लिविंग विश्व की सबसे बड़ी स्वयंसेवी संस्था है।

 

संस्था का उद्देश्य है कि व्यक्तिगत, सामाजिक, राष्ट्र और सम्पूर्ण विश्व के स्तर पर शांति स्थापित करना। उसके कार्य क्षेत्र में द्वंद समाधान, आपदा और आघात में सहायता, गरीबी उन्मूलन, महिला सशक्तिकरण, कैदियों का पुन:स्थापन, सबके लिए शिक्षा, महिला भ्रूण हत्या के खिलाफ अभियान और बाल श्रमिक और पर्यावरण की निरंतर स्थिरता सम्मिलित है।

 

 

गोपालपुर के निकट गजरेहड़ा मेंं आयोजित भूमि पूजन कार्यक्रम में जयसिंहपुर के विधायक रवींद्र धीमान सहित द आर्ट ऑफ लिविंग के हजारों की संख्या मेंं अनुयायियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज़ करवाई। पूजा का संचालन हिमाचल के प्रभारी हितेश शर्मा की देख रेख में किया गया। 

 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना