हिमाचल / पूर्व सीएम की मांग- बलात्कारी को फांसी की सजा हो, इसका वीडियो बनाकर टीवी पर दिखाया जाए

पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार
X
पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमारपूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार

  • पिछले 7 साल में बलात्कार के मामले जब दोगुने तो सजा मात्र 25 प्रतिशत ही क्यों?: शांता कुमार

  • हैदराबाद की घटना पर बोले, कहा-पूरा देश चिल्ला रहा है, सड़कों पर आंसू बहा रहा है, इतने दिन बीत गए हैं, सरकार की चुप्पी पर हैरानी

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 06:38 PM IST

पालमपुर. भाजपा नेता व हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने सरकार से बलात्कार के आरोपी को दोष सिद्ध होने पर फांसी की सजा देने की मांग की। उनकी मांग है कि तीन माह में अपराधियों को सूली पर चढ़ाया जाए, फांसी देने की कार्रवाई की वीडियोग्राफी करवा कर जनता को टीवी पर भी दिखाई जाए।

पत्रकारों को भेजे प्रेस नोट में पूर्व सीएम शांता कुमार ने कहा - दिल्ली के निर्भया कांड के बाद लगातार बलात्कार के समाचार मिल रहे हैं। शिमला के कोटखाई में गुड़िया कांड, हैदराबाद में महिला डॉक्टर से शर्मनाक दरिंदगी इन सब घटनाओं से एक मनुष्य के तौर पर मेरा मन ही नहीं आत्मा भी कांप रही है। हैदराबाद की घटना पर पूरा देश चिल्ला रहा है, सड़कों पर आंसू बहा रहा है, इतने दिन बीत गए हैं, सरकार की चुप्पी हैरान करने वाली है।

शांता कुमार ने कहा कि दिल्ली की निर्भया कांड के अपराधियों को फांसी की सजा हो गई थी परंतु सरकारी गोरखधंधे के कारण 7 साल से फांसी नहीं दी जा रही। पूरे देश में बलात्कार के मामले दोगुना हो गए हैं, परंतु सजा मात्र 25% ही क्यों? उन्होंने कहा कि प्रदेश की गुड़िया कांड पर हिमाचल की इतिहास में पुलिस थाना जलाया, डीआईजी तक के 7 पुलिस अधिकारी लंबे समय तक जेल में रहे। जांच एजेंसियां आईं, बावजूद गुड़िया से दरिंदगी के अपराधी पकड़े नहीं गए।

DBApp
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना