एक ही कमरे में चल रही हैं पांच कक्षाएं, दो विभागों के आपसी तालमेल के अभाव के चलते खतरे में बच्चों का भविष्य

dainikbhaskar.com | Sep 01,2018 14:05 PM IST

दो विभागों में फाइलों के चक्कर में नूरपुर के ठंगर में स्थित प्राइमरी स्कूल के बच्चों का भविष्य दांव पर लगा हुआ है। हालत यह है कि भारी बरसात के चलते उक्त प्राइमरी स्कूल की बिल्डिंग की किसी भी समय भी हादसे को न्योता दे सकती है, और वहां पढ़ रहे बच्चों की जान कभी भी खतरे में पढ़ सकती है। लेकिन शिक्षा विभाग व लोक निर्माण विभाग के आपसी तालमेल के अभाव के चलते पिछले 1 वर्ष से पूरी फाइल पत्र व्यवहार के चलते आपस में उलझी पड़ी है। बच्चों की भविष्य की चिंता ना कर दोनों ही विभाग अपनी अपनी जिम्मेदारियों से भाग रहे हैं।

पहाड़ी दरकने से चंबा पठानकोट मार्ग बंद ,एक ट्रक भी आया मलबे की चपेट में

dainikbhaskar.com | Aug 25,2018 18:28 PM IST

चंबा में हो रही भारी बरसात के कारण चंबा पठानकोट नेशनल हाईवे फिर अवरूद्ध हो गया चंबा पठानकोट मार्ग पर ढ़ुडियार बंगला के पास फिर से पहाड़ दरकने से मार्ग अवरूद्ध इस मलबे में एक ट्रक चपेट मे आ गया फिलहाल हो कोई भी व्यक्ति इस में घायल नहीं हुआ है और प्रशासन ने मार्ग को सूचारू रूप से चलाने के लिए लोक निर्माण विभाग को पहले ही निर्देश दे दिए हैं ।

​योग सिखाने के बहाने अमेरिकी युवती से की छेड़छाड़, पुलिस ने किया गिरफ्तार

dainikbhaskar.com | Aug 25,2018 13:08 PM IST

अमेरिका से योग सीखने पहुंची एक विदेशी युवती के साथ योग प्रशिक्षक द्वारा छेड़छाड़ करने के आरोप में पुलिस ने योग प्रशिक्षक को गिरफ्तार कर लिया है। अमेरिकी विदेशी महिला पर्यटक ने धर्मशाला पुलिस को अपने साथ हुई छेड़छाड़ की घटना की शिकायत दर्ज करवाई थी। इस सूचना के मिलते ही धर्मशाला पुलिस ने तेजी दिखाई और छेड़छाड़ व बदतमीजी करने वाले युवक को गिरफ्तार कर लिया।

​धर्मशाला में भूस्खलन का खतरा, तीन घर करवाए खाली

dainikbhaskar.com | Aug 23,2018 20:16 PM IST

धर्मशाला में मूसलाधार बरसात होने के कारण सात करोड़ 41 लाख रुपए की संपत्तियों के नुकसान का आकलन लोक निर्माण विभाग द्वारा किया गया है। धर्मशाला से सकोह- चैतडू सड़क पर जगह जगह पर लहासे गिरने व एक जगह पर करीव 20 मीटर सड़क बहने के कारण सड़क को नुकसान पहुंचा है। धर्मशाला के समीप खनियारा के टिल्लू गांव में भारी बारिश के बाद एक बार फिर भूस्खलन का दौर शुरू हो गया है। इस कारण गांव के लगभग एक दर्जन घरों को खतरा पैदा हो गया है। 3 परिवारों के घर तो कभी भी ढह सकते हैं| प्रशासन ने इन तीनों घरों को खाली करवा लिया है।