हमीरपुर

  • Home
  • Himachal Pradesh News
  • Hamirpur News
  • अब फ्री में बनेगा आधार कार्ड, बैंक देंगे लोगों को सुविधा, तीन जिले में योजना को अमलीजामा पहनाने का
--Advertisement--

अब फ्री में बनेगा आधार कार्ड, बैंक देंगे लोगों को सुविधा, तीन जिले में योजना को अमलीजामा पहनाने का कार्य शुरू

अब नया आधार कार्ड बनाने के लिए लोगों को राशि नहीं खर्च करनी पड़ेगी। बैंक लोगों को यह सुविधा नि:शुल्क उपलब्ध...

Danik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:00 AM IST
अब नया आधार कार्ड बनाने के लिए लोगों को राशि नहीं खर्च करनी पड़ेगी। बैंक लोगों को यह सुविधा नि:शुल्क उपलब्ध करवाएगा। तीन जिलों हमीरपुर, ऊना व बिलासपुर में इस योजना को अमलीजामा पहनाने का कार्य शुरू हो गया है। योजना के तहत हर जिला मुख्यालय में पीएनबी बैंक की एक शाखा को तय किया गया है। यूएआईडीआई के साथ हुए एक समझौते के तहत लोगों को यह सुविधा देने का क्रम अब शुरू होगा। उल्लेखनीय है कि अब तक आधार कार्ड बनाने के लिए लोगों को 50 से 100 रुपए तक की राशि का भुगतान करना पड़ रहा था।

पहले सरकारी तौर पर शुरू किए गए थे केंद्र अब हो चुके हैं बंद, अब बनाने के लिए देने पड़ रहे थे 50 से 100 रुपए

यहां मिलेगी सुविधा

हमीरपुर जिला में योजना के तहत हमीरपुर के डीसी कार्यालय के पास इस योजना के तहत आधार कार्ड जो नया बनाया जाएगा उसे नि:शुल्क बनाया जाएगा। जबकि बिलासपुर व ऊना जिलों में भी इसे यूएआईडीआई के कर्मचारी बैंक में ही स्थापित किए जा रहे काउंटर पर बनाएंगे। यही नहीं यदि कोई आधार कार्ड में पता या नाम को ठीक करवाना चाहेगा तो उसे भी उसी समय ठीक कर दिया जाएगा। हालांकि नया बनाने के अलावा जाे त्रुटियां ठीक करने को होंगी उसका चार्ज रखा गया है जो बेहद कम रहेगा। इस योजना के तहत बैंक की ओर से जो फीस निर्धारित की गई है। उसके तहत आधार कार्ड में गलती को ठीक करवाने के लिए 30 रुपए, प्रिंट कलर लेने के लिए 24 रुपए और ब्लैक एंड व्हाइट कलर लेने के लिए मात्र 12 रुपए देने होंगे।

योजना की शुरू


सेंटर हो गए हैं बंद

जिला भर में आधार सेंटर बनाए गए थे, जो पहले सरकारी देखरेख में चल रहे थे, लेकिन काफी समय से इन्हें फील्ड स्तर से बंद कर दिया गया है। जिस कारण लोगों को आधार कार्ड बनाने के लिए जिला मुख्यालय की ओर रुख करना पड़ रहा था। जहां उनसे इन्हें बनाने के लिए निजी स्तर पर 50 से 100 रुपए तक की राशि को लिया जा रहा था। परिवार के एक से ज्यादा मेंबर होने पर उन्हें नया कार्ड बनाने के लिए काफी राशि खर्च करनी पड़ रही थी, जो अब खर्च नहीं करनी होगी। माना जा रहा है कि योजना यदि सफल रही तो इन जिलों के फील्ड स्तर पर भी इस सुविधा को शुरू किया जा सकेगा।

Click to listen..