हमीरपुर

--Advertisement--

लोगों को 20 बीमारियों से बचाएगा नेशनल हेल्थ मिशन

हिमाचल के 30 प्लस ऐज के लोगों को नेशनल हेल्थ मिशन 20 बीमारियों से बचाएगा। उन्हें नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा भी मिल...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:00 AM IST
लोगों को 20 बीमारियों से बचाएगा नेशनल हेल्थ मिशन
हिमाचल के 30 प्लस ऐज के लोगों को नेशनल हेल्थ मिशन 20 बीमारियों से बचाएगा। उन्हें नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा भी मिल सकेगी। आशा वर्कर की ओर से स्वास्थ्य विभाग इनका डॉटा एकत्र करेगा और जिसको भी उपचार की आवश्यकता होगी उसे स्वास्थ्य केंद्रों में भेज कर उपचार किया जा सकेगा। इस कार्यक्रम के तहत हिमाचल को कवर करने का लक्ष्य रखा गया है। यही नहीं इस योजना के साथ ही एनएचएम की ओर से चलाए जा रहे राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों के तहत आशा वर्कस को भी बड़ा लाभ देने की तैयारी पूरी हो गई है। उन्हें अलग-अलग बीमारियों के मरीजों को स्वास्थ्य केंद्रों तक ले जाने को लेकर 150 से 500 तक की राशि मिल सकेगी। इसके दायरे में राज्य की सैकड़ों आशा वर्कर आएंगी।

इंटीग्रेटेड अप्रोच फॉर प्रवेशन एवं कंट्रोल एनसीडीएस योजना के तहत जो 30 साल से ज्यादा के लोग हैं, उनका डॉटा एकत्र होगा। इसके तहत उनसे आशा वर्कर की ओर से बाकायदा जानकारी भी जुटाई जाएगी। बीमारियों में ह्रदय रोग, कैंसर, मोटापा, आखों, स्ट्रोक व मानिसक स्वास्थ्य सहित है। जबकि तंबाकू का प्रयोग, दो बार से भी कम सब्जी या फल खाते, सांस फूलता तो नहीं, बेहोशी के दौरे तो नहीं पड़ते, नजर कैसी है, बीपी, शूगर या ह्रदय रोग तो नहीं, सुनाई कैसा देता है, स्तन में कोई घाव तो नहीं, मुंह में घाव तो नहीं, क्या परिवार में कोई धूम्रपान तो नहीं करता, सहित करीब 18 बीमारियों को इसमें शामिल किया गया है, यह जानकारियां भी एकत्र होगी। एक कार्ड को बनाने पर वह 5 साल तक चल सकेगा। यह सारा डॉटा आनॅलाइन होगा। स्वास्थ्य विभाग के बीएमओ डॉ. आरके अग्निहोत्री का कहना है कि जो 30 की उम्र से ज्यादा हैं, उन सभी को कवर किया जाना है। जो बीमारियां उनमें सामने आएंगी, उनका नि:शुल्क उपचार भी किया जाएगा।

नए कार्यक्रम में हिमाचल को कवर करने का लक्ष्य, हजारों आशा वर्करों को भी बड़ा आर्थिक लाभ देने की तैयारी

आशा वर्कर को नए स्वास्थ्य कार्यक्रम की जानकारी देते विभाग के एक्सपर्ट

आशा वर्कर को कैसे मिलेगा आर्थिक लाभ

इस कार्यक्रम के तहत प्रति व्यक्ति का कार्ड बनाने पर 10 रुपए मिलेंगे, जबकि फॉलोअप के 50 देने का भी प्रावधान अलग से किया गया है। इस समय नेशनल कार्यक्रमों के तहत आशा वर्कर को मानदेय के तौर पर अलग-अलग जिला व ब्लॉक स्तर की मंथली मीटिंग के लिए 500 रुपए तक, बच्चों को अलग-अलग दवा पिलाने या इंजेक्शन लगाने पर 400 रुपए तक, गर्भवती महिलाओं की केयर से लेकर अस्पताल तक पहुंचाने तक 700 तक, चाइल्ड हेल्थ कार्यक्रम के तहत 550 तक, इम्यूनाइजेशन पर 250 तक, फैमिली प्लानिंग योजना पर 500 रुपए तक, लेप्रोसी कार्यक्रम पर 300, नेशनल डिजीज कार्यक्रम के तहत करीब 200 रुपए, एनएलई स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत 800 रुपए तक मिलेंगे।

X
लोगों को 20 बीमारियों से बचाएगा नेशनल हेल्थ मिशन
Click to listen..