हमीरपुर

--Advertisement--

डिपुओं में नहीं पहुंच रही राशन की पूरी सप्लाई, लोग हो रहे हैं परेशान

जिला भर में एक ही डेट का राशन डिपुओं से एक मुश्त कोटा उपभोक्ताओं को उपलब्ध करवाने की फाइल धरातल पर खुलती नहीं दिख...

Dainik Bhaskar

Apr 14, 2018, 02:00 AM IST
डिपुओं में नहीं पहुंच रही राशन की पूरी सप्लाई, लोग हो रहे हैं परेशान
जिला भर में एक ही डेट का राशन डिपुओं से एक मुश्त कोटा उपभोक्ताओं को उपलब्ध करवाने की फाइल धरातल पर खुलती नहीं दिख रही। उन्हें हर माह का कोटा लेने के लिए डिपुओं के चक्कर काटने से निजात नहीं मिलने से परेशानी उठानी पड़ रही है। खासकर कामकाजी महिलाओं या दूसरे उपभोक्ताओं को जो दूसरे क्षेत्रों में नौकरी पेशे से जुडे हैं, को डिपुओं में समय निकाल कर यह पता करने पर विवश होना पड़ रहा है कि राशन कब तक आएगा। लेकिन आधा महीना बीतने को है और हमीरपुर शहर के अलावा दूसरे क्षेत्रों के डिपुओं में भी सारा राशन का कोटा नहीं पहुंच पाया है। विभाग की ओर से यह दावे किए जाते रहे हैं कि 15 तारीख से पहले सभी डिपुओं में राशन की सप्लाई पहुंचा कर उपभोक्ताओं को बेची जा सकेगी लेकिन यह दावे हर माह आश्वासनों तक ही सीमित हो कर रह गए हैं।

हमीरपुर शहर के भी एक डिपो में तो पूरी सप्लाई नहीं पहुंच पाई है। यही हाल सुजानपुर आैर नादौन ब्लाॅक के डिपुओं में भी हैं, जहां उपभोक्ताओं को चीनी और तेल का कोटा अभी तक नहीं मिल पाया है। यही हाल ग्रामीण क्षेत्रों के डिपुओं में भी हैं। इसी कारण कई उपभोक्ता डिपुओं के चक्कर काटने पर विवश हो रहे हैं।

राशन कार्ड बनाने का क्रम पूरा हो चुका है, कहा यही जा रहा था कि उपभोक्ताओं को राशन का कोटा पहुंचते ही मैसेज फोन पर भी पहुंच जाया करेंगे, लेकिन जो विभाग की ओर से मैसेज आ रहे हैं उसमें कहा जा रहा है कि फेयर प्राइज शॉप पर आइटम्स मौजूद है। इसमें आटा, दाल, चना, मल्का, चावल, चीनी, साबूत ऊर्ड व गेहूं उपलब्ध हैं। इस कारण भी उपभोक्ताओं को चक्कर लगाने पर विवश हो रहे हैं। नादौन क्षेत्र के विजय कुमार ने इस मैसेज को दिखाते हुए कहा कि उनके डिपुओं में राशन आया नहीं है और मैसेज विभाग की ओर से जारी हो रहे हैं।

खाद्य आपूर्ति विभाग के मोबाइल मैसेज से उपभोक्ता असमंजस में।

समस्या होती है आधे महीने बाद

डिपुओं से राशन लेने वाले कार्ड धारक सदस्य विजय शर्मा, पंकज कुमार, विपिन कुमार, प्रकाशो देवी, स्वर्णलता, कुसुमलता, स्नेहलता व कौशल्या देवी सहित कई उपभोक्ताओं का कहना है कि 15 तारीख के बाद राशन का कोटा आने से उन्हें आर्थिक समस्या भी पेश आने लगती है। न तो माह के शुरू में एकमुश्त कोटा दिया जाता है और न ही सही जवाब मिल पाता है कि सारे राशन का कोटा कब तक मिल पाएगा। इनमें कुछ नौकरी पेशे से जुड़े लोगों का कहना है कि उन्हें सबसे बड़ी समस्या यह होती है कि राशन का कोटा अलग-अलग समय में आने से कार्यक्षेत्र से छ़ुट्टी लेनी पड़ती है, तभी डिपुओं में लाइन पर लग सकते हैं। उनका कहना है कि कुछ डिपुओं में तो उपभोक्ता 300 से ज्यादा जुडे हैं। उन्होंने सरकार से मांग की है कि सभी डिपुओं में महीने के शुरु में ही राशन उपलव्ध करवाने के कड़े दिशा निर्देश दिए जाएं ताकि उपभोक्ताओं को बेवजह चक्कर काटने से निजात मिल सके।


X
डिपुओं में नहीं पहुंच रही राशन की पूरी सप्लाई, लोग हो रहे हैं परेशान
Click to listen..