Hindi News »Himachal »Hamirpur» पुष्प अर्पित कर भीमराव को किया याद

पुष्प अर्पित कर भीमराव को किया याद

सिटी रिपोर्टर | हमीरपुर/जाहू /धर्मशाला जिलाभर में शनिवार को संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर जयंती पर कई जगह...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 15, 2018, 02:00 AM IST

सिटी रिपोर्टर | हमीरपुर/जाहू /धर्मशाला

जिलाभर में शनिवार को संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर जयंती पर कई जगह कार्यक्रम आयोजित कर उन्हें याद किया। सुजानपुर भाजपा द्वारा कार्यक्रम में पूर्व सीएम ने कहा कि दलित वर्ग के गरीब परिवारों के हमने भाजपा सरकारों में कई योजनाएं चलाई, प्रदेश में बतौर सीएम उन्होंने डॉ भीम राव अंबेडकर मेधावी छात्रवृत्ति योजना शुरू की, एमबीबीएस और इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए भी 30 हजार वजीफा देना शुरू किया था। जिनका लाभ आज भी सबको मिल रहा है।

उधर भोरंज की जाहू पंचायत के डोहग गांव में भाजपाइयों को डॉ. अंबेडकर को श्रद्धांजलि देने के लिए उनकी फोटो लाने को ही दर-दर भटकना पड़ा। वे कभी दुकान तो कभी लोगों के घरों इसे तलाशते रहे। अंत में जाहू पंचायत घर से इसे लाया गया। वहीं दडूही पंचायत प्रधान ऊषा विरला की मौजूदगी में विधायक नरेंद्र ठाकुर ने कहा कि डाॅ. अंबेडकर आधुनिक भारत के सबसे शिक्षित व्यक्ति थे।

धर्मशाला | खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री किशन कपूर ने संविधान निर्माता एवं भारत र| डॉ. भीम राव अंबेडकर की 127वीं जयंती पर शुभकामनाएं देते हुए समरस समाज के निर्माण के लिए सभी लोगों से उनके दिखाए मार्ग पर चलने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि समाज में व्याप्त कुरीतियों को सभी के सहयोग से ही मिटाया जा सकता है। कपूर शनिवार को धर्मशाला नगर में स्थित गुरु रविदास मंदिर में डॉ. अंबेडकर की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में बाेल रहे थे।

गांधी चौक पर अंबेडकर जंयती पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लेते लोग।

गांधी चौक पर हुआ कार्यक्रम |जय भीम युवक मंडल द्वारा गांधी चौक पर राज्य स्तरीय डॉ. भीम राव अंबेडकर जयंती समारोह में बाइक रैली से युवा पहुंचे। राष्ट्रीय दलित नेता डॉ. ओंकार सिंह ने बतौर मुख्यातिथि कहा कि दलित वर्ग के प्रावधानों में संशोधित की कोई जरुरी नहीं। दूसरे वर्ग इस पर गलत हो हल्ला कर रहे, असल में अभी 3 फीसदी फायदा भी इस वर्ग को नहीं मिला है। हजारों बैकलॉग के पद खाली हैं, 85वां संशोधन लागू नहीं किया, पीटीए, पैट, विद्या उपासक, एसएमसी, अनुबंध और आउटसोर्स पर जो हजारों नियुक्तियां सरकारों ने कर ली, उसमें एससी-एसटी काे कोई वरियता नहीं दी गई। विधानसभा वाइज बने अंबेडकर भवनों में लाइब्रेरी बने, देख-रेख को चौकीदार रखे जाएं। इस मौके पर संजीव नौजवान, सफल डोगरा सहित कई पदाधिकारी मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hamirpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×