Hindi News »Himachal »Hamirpur» एमसीआई ने नेरचौक मेडिकल कॉलेज काे किया आेके, हमीरपुर पर संकट बरकरार

एमसीआई ने नेरचौक मेडिकल कॉलेज काे किया आेके, हमीरपुर पर संकट बरकरार

प्रदेश के नए मेडिकल कॉलेजों में शामिल मेडिकल कॉलेज नेरचौक, चंबा, नाहन व हमीरपुर में से एमसीआई यानि मेडिकल काउंसिल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 16, 2018, 02:00 AM IST

प्रदेश के नए मेडिकल कॉलेजों में शामिल मेडिकल कॉलेज नेरचौक, चंबा, नाहन व हमीरपुर में से एमसीआई यानि मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया ने नेरचौक स्थित एसएलबीएस मेडिकल कॉलेज को बिना किसी रुकावट के दूसरे बैच के लिए ओके कर दिया है। वहीं, चंबा व नाहन मेडिकल कॉलेज में अनेक कमियां पाई हैं, जिन्हें प्रदेश सरकार द्वारा अंडरटेकिंग देकर बचाया गया है, जबकि हमीरपुर कॉलेज में अनेक कमियां होने के चलते इसके शुरू होने पर अभी भी संकट बरकरार है।

मेडिकल कॉलेजों को अप्रूवल देने के लिए दिल्ली में हुई एमसीआई की एग्जीक्यूटिव कमेटी की बैठक में प्रदेश के इन मेडिकल कॉलेजों में अनेक खामियां पाई गई हैं। एमसीआई एग्जीक्यूटिव कमेटी की बैठक दिल्ली में एमसीआई के चेयरमैन की अध्यक्षता में हुई है।

हमीरपुर मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस की कक्षाएं शिक्षा सत्र 2018 से शुरू होने पर संकट बरकरार है। हमीरपुर मेडिकल कॉलेज का अभी तक एमसीआई की टीम की ओर से प्रथम बैच के लिए इंस्पेक्शन नहीं किया गया है। सूत्रों की माने तो हमीरपुर मेडिकल कॉलेज प्रशासन की ओर से इंस्पेक्शन के लिए एमसीआई को अप्लाई तो किया गया है, लेकिन एमसीआई ने अभी तक हमीरपुर मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस की कक्षाएं शुरू करने के लिए इंस्पेक्शन के लिए भेजे गए एप्लीकेशन को ही स्वीकार नहीं किया है। इसके चलते हमीरपुर मेडिकल कॉलेज का इंस्पेक्शन नहीं हो पा रहा है।

एमसीआई की एग्जीक्यूटिव कमेटी की बैठक में हुई कॉलेजों की खामियां उजागर

इनमें हमीरपुर, चंबा व नाहन मेडिकल कॉलेज शामिल

तीन माह में का दिया वक्त

एमसीआई सूत्रों के अनुसार बैठक में प्रदेश सरकार के प्रतिनिधि भी शामिल हुए थे। जिनके समक्ष काउंसिल की ओर से मेडिकल कॉलेजों की खामियों को रखा गया। चंबा व नाहन मेडिकल कॉलेज में एमसीआई की ओर से पाई खामियां अब प्रदेश सरकार को आगामी तीन माह में दूर करनी होगी। सरकार की ओर से दोनों कॉलेजों के लिए दी गई अंडर टेकिंग के बाद आगामी बैच शुरू होने का रास्ता तो साफ हो गया है। एमसीआई के सू्त्रों के अनुसार चंबा व नाहन मेडिकल कॉलेजों में पाई गई यह खामियां शीघ्र दूर नहीं हुई तो इन कॉलेजों में 2019 के बैच पर संकट मंडरा सकता है। सूत्रों के अनुसार नाहन मेडिकल कॉलेज में तो अभी तक गत वर्ष की पुरानी खामियां भी दूर नहीं हो पाई है। गौरतलब है कि नाहन मेडिकल कॉलेज में इस शिक्षा सत्र से एमबीबीएस का तीसरा बैच शुरू किया जाना है। चंबा में एमबीबीएस का दूसरा बैच बिठाया जाएगा।

प्रदेश के तीनों मेडिकल कॉलेजों नेरचौक, चंबा व नाहन में अगला बैच शुरू हो जाएगा। इसकी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई है। अंडरटेकिंग देना रूटीन प्रोसेस है। चंबा व नाहन में जो भी कमियां है उन्हें शीघ्र दूर कर दिया जाएगा। हमीरपुर कॉलेज का अभी एमसीआई इंस्पेक्शन नहीं हुआ है। उम्मीद है एमसीआई की टीम शीघ्र ही इस कॉलेज का इंस्पेक्शन करेगी। पंकज राय, विशेष सचिव, हेल्थ।

हमीरपुर में फैकल्टी तैनात, बैच पर संकट|तैनात कर दी है हालांकि प्रदेश सरकार की ओर से हमीरपुर मेडिकल काॅलेज में फैकल्टी तैनात कर दी गई है। एमसीआई की ओर से जब तक हमीरपुर मेडिकल कॉलेज का इंस्पेक्शन नहीं किया जाता तक तक एमबीबीएस की कक्षाएं शुरू करने पर संकट बना हुआ है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hamirpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×