• Hindi News
  • Himachal
  • Hamirpur
  • इवैल्यूएशन सेंटर सवालों के घेरे में, पेपर चेकिंग करने वाले कई टीचर रहते हैं गायब
--Advertisement--

इवैल्यूएशन सेंटर सवालों के घेरे में, पेपर चेकिंग करने वाले कई टीचर रहते हैं गायब

Hamirpur News - सीनियर सेकेंडरी स्कूल ब्वाॅयज में स्थित स्पाट इवैल्यूएशन सेंटर, मूल्यांकन में लगे कई टीचरों के गायब रहने से...

Dainik Bhaskar

Apr 20, 2018, 02:00 AM IST
इवैल्यूएशन सेंटर सवालों के घेरे में, पेपर चेकिंग करने वाले कई टीचर रहते हैं गायब
सीनियर सेकेंडरी स्कूल ब्वाॅयज में स्थित स्पाट इवैल्यूएशन सेंटर, मूल्यांकन में लगे कई टीचरों के गायब रहने से सवालों के घेरे में आ गया है। परीक्षार्थियों के भविष्य को तय करने वाले यह टीचर खुद ड्यूटी के कितने पाबंद हैं, यह इस मूल्यांकन सेंटर पर इनकी हाजिरी देखने के बाद स्वयं पता चल जाता है। क्योंकि ज्यादातर कमरों में यह अब कुछ ही टीचर इस काम में लगे हुए रह गए हैं। वीरवार को इस सेंटर का जो नजारा दिखा उससे यही लगा कि सुबह पेपर आवंटन होने के बाद यह टीचर आखिर कहां चले जाते हैं। पेपर कहां देख रहे। कहीं ऐसा तो नहीं कि जल्दबाजी में पेपर देखकर घर की ओर निकल जाते हों। इस तरह के रवैए से काम निपटाने तक सीमित तो नहीं हो गया है।

वजह यह है कि हमीरपुर जिला के 2 स्कूलों के ऐसे मामले पिछली मर्तबा सुर्खियों में आए थे, जिसकी वजह शायद इसी तरह की व्यवस्था रही है। सेंटर पर जितने टीचरों की ड्यूटी लगाई गई है वीरवार को कई टीचर कमरों में नहीं दिखे। बहाना यह बनाया गया कि कई टीचर अब ड्यूटी मुकम्मल होने के बाद अपने-अपने स्कूलों के लिए रिलीविंग ले रहे हैं तो कई खाना खा रहे हैं जबकि भोजनावकाश का समय भी यहां सुनिश्चित होता है लेकिन लगता यही है कि यहां सब बहानेबाजी मे सिमट कर रह गया है और कौन, कब, कहां, कितनी ड्यूटी दे रहा है, इसका भरोसा किसी को होगा, ऐसा नहीं दिख रहा। करीब 25 अप्रैल तक प्रदेश के सभी इस तरह की इवैल्यूएशन सेंटरों पर पेपर मार्किंग का या काम मुकम्मल हो जाना है। कई जगह इस तरह के सपोर्ट इवैल्यूएशन सेंटर बनाए गए हैं इनका जिम्मा देखने के लिए संबंधित स्कूलों के प्रिंसिपलों को को-आर्डिनेटर के रूप में शामिल किया जाता है। जबकि स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से इन सेंटरों का एक इंचार्ज तय होता है। वीरवार को 2:30 बजे से लेकर 3:00 बजे तक जो नजारा यहां दिखा, उसमें यही लगा कि कहीं ना कहीं लापरवाही हो रही है। इस लापरवाही का खामियाजा कहीं स्टूडेंट को तो नहीं भुगतना पड़ेगा।

सुबह 10 से 5 बजे तक पेपर चेकिंग के समय कमरों में आधे-अधूरे टीचर ही दिखे

हमीरपुर- बाल सीनियर सेकंडरी स्कूल हमीरपुर में स्पॉट मूल्यांकन सेंटर के भीतर का दृश्य।

वीरवार को हाजिरी रजिस्टर पर कितने लोगों की मौजूदगी दर्ज

सेंटर के इंचार्ज बलवीर सिंह चंदेल का कहना है कि वीरवार को 59 टीचर मौजूद हैं । कुछ को मूल्यांकन खत्म होने की वजह से रिलीव किया गया है और कई लोग दोपहर के भोजन के समय की वजह से इधर-उधर हो सकते हैं। लेकिन उन्होंने साफ तौर पर यह नहीं बताया कि वीरवार को हाजिरी रजिस्टर पर कितने लोगों की मौजूदगी दर्ज है । उन्होंने कहा कि इस बारे में बोर्ड के अधिकारी ही पूछ सकते हैं। उनका यह भी कहना था कि भोजन का समय सुनिश्चित नहीं किया गया है वैसे 1:00 से 1:30 के दरमियान भोजनावकाश की ब्रेक रहती है। उधर बोर्ड के सचिव हरीश गज्जू का कहना है कि ऐसा नहीं होना चाहिए और यदि ऐसा है तो इसकी रिपोर्ट मंगवाई जाएगी लेकिन उनका यह भी कहना था कि अगले साल से संबंधित सभी सेंटरों पर यह मार्किंग कैमरे की नजर में आयोजित होगी, ताकि इस तरह के विवाद उठ खड़े ही न हों।

कोताही तो नहीं बरत रहे, कैमरे की नजर में आएं तब लगेगा असली पता

बोर्ड की कोताही

दरअसल में इन सेंटरों में बोर के द्वारा सभी टीचर्स की ड्यूटी लगाई जाती है कहा यही जाता है कि दूरदराज के टीचर्स ही इसमें इसलिए शिरकत कर लेते हैं ताकि वे अपने घरों के नजदीक पहुंच जाएं लेकिन इसमें बड़े स्तर पर बोर्ड भी कोताही बरत रहा है। उसे जैसे-तैसे अपने पेपर चेक करवाने हैं और इसकी भेंट स्टूडेंट्स भी चढ़ रहे हैं। इन टीचर्स को ड्यूटी के समय रोजाना 10:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक केवल 30 पेपर मूल्यांकन के लिए आवंटित किए जाते हैं। ज्यादा पेपर वे नहीं ले सकते। वजह यह कि कहीं भी कोई कोताही न हो और इस मूल्यांकन के लिए उनके पास पर्याप्त समय उन्हें मिले। मगर यदि इस तरह निपटाने का काम ही होना है तो फिर परीक्षार्थियों को मार्किंग में भगवान ही बचाएगा। क्योंकि आरटीआई में 2 स्कूलों के बच्चों ने पिछली बार फेल होने के बाद जो जानकारी ली थी। उसमें चौकाने वाले तथ्य आए थे। उन्हें बाद में पास किया गया और मूल्यांकन में हुई इस कोताही पर ज्यादा कुछ संबंधित टीचरों के खिलाफ हुआ हो ऐसा सामने नहीं आया। इस सेंटर पर 70 टीचर्स की ड्यूटी लगाई गई है। लेकिन कई के रोजाना ही मौजूदगी ना बनाए जाने के मामले को लेकर या सेंटर चर्चा में रहा है। ऐसा भी पता चला है कि इस मामले को लेकर दो टीचर्स के दरमियान कुछ दिन पहले हुआ एक विवाद भी खूब सुर्खियां में रहा।

X
इवैल्यूएशन सेंटर सवालों के घेरे में, पेपर चेकिंग करने वाले कई टीचर रहते हैं गायब
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..