Hindi News »Himachal »Hamirpur» हथली खड्‌ड में फेंका जा रहा है मलबा, बना दी डंपिंग साइट

हथली खड्‌ड में फेंका जा रहा है मलबा, बना दी डंपिंग साइट

एक तरफ पेयजल स्रोतों के संरक्षण की बड़ी-बड़ी बातें की जाती है, तो दूसरी तरफ इनकी सुध लेने तक की कोई जहमत नहीं उठाता...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 22, 2018, 02:00 AM IST

एक तरफ पेयजल स्रोतों के संरक्षण की बड़ी-बड़ी बातें की जाती है, तो दूसरी तरफ इनकी सुध लेने तक की कोई जहमत नहीं उठाता है। कुछ ऐसी ही हालत शहर की एकमात्र हथेली खड्ड की इन दिनों है। इस खड्ड को सरंक्षति करने के लिए कभी किसी ने कोई पहल नहीं की। यही वजह है कि अब इसकी हालत दिन-प्रतिदिन बदतर होती जा रही है कोई कुछ नहीं कर रहा है। सब आखें मूूंदकर बैठे हुए हैं, जहां से पानी लिफ्ट करके शहर के लोगों को सप्लाई किया जाता है वहां पर भी आईपीएच विभाग पास में होने के बावजूद इन व्यवस्थाओं को सुधारने के लिए कोई कदम नहीं उठा रहा है। खड्ड सिकुड़ती जा रही है मिट्टी का मलबा सीधा इसमें पहुंचकर इसकी हालत को और खराब कर रहा है। लगातार अब यह डंपिंग साइट बनती जा रही है।

कचरा भी फैला है चारों तरफ : खड्ड के चारों तरफ कई तरह का कचरा फैला हुआ है, इससे पानी भी प्रदूषित हो रहा है। लेकिन यहां साफ सफाई रखने के लिए कुछ नहीं हो रहा। नगर परिषद भी इसे लेकर कोई कदम नहीं उठा रही है। इस खडड के आसपास काफी बस्ती बस चुकी है पर इनके लिए कहीं पर भी कचरे के प्रबंधन के लिए कोई व्यवस्था नहीं है। कूडा सीधा खड्‌ड के पानी में ही फेंका जा रहा है। आगे भी जहां पानी जा रहा है वहां भी यही हालत बनी हुई है गंदगी साथ में ही जा रही है। किसी संस्था द्वारा भी आज तक इस की हालत को सुधारने के लिए कोई पहल नहीं की गई है।

पानी में मिल रहा मिट्टी का मलबा सिकुड़ रही खड्ड।

मिट्टी का मलबा पहुंच रहा खड्‌ड में

खड्‌ड में पिछले काफी समय से मिट्टी का मलबा फेंका जा रहा है, इसकी वजह से इसका दायरा सिकुड़ रहा है। लोग अपने भवन निर्माण की सामग्री को भी यहां फेंक रहे हैं। खड्ड के आसपास जो भी निर्माण हो रहे हैं, वहां से निकलने वाली मिट्टी का ढेर भी धीरे-धीरे इसी खड्ड में पहुंचकर स्थिति को और खराब कर रहा है। लेकिन इस नुकसान को रोकने के लिए प्रशासनिक तौर पर कुछ नहीं किया जा रहा है। खड्‌ड की हालत खराब हो रही है तो होती रहे किसी को इसकी परवाह नहीं। किसी तरह की चेतावनी देने तक का कोई बोर्ड तक वहां नहीं लगा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hamirpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×