Hindi News »Himachal »Hamirpur» एक दशक से नहीं बन पाया भांबला-जाहू पुल

एक दशक से नहीं बन पाया भांबला-जाहू पुल

मंडी हमीरपुर को जोड़ने वाला जाहू भांबला पुराना पुल टूटने के 11 साल बाद भी नहीं बन पाया है। पुल के क्षतिग्रस्त होने के...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 13, 2018, 02:00 AM IST

एक दशक से नहीं बन पाया भांबला-जाहू पुल
मंडी हमीरपुर को जोड़ने वाला जाहू भांबला पुराना पुल टूटने के 11 साल बाद भी नहीं बन पाया है। पुल के क्षतिग्रस्त होने के बाद इतना लंबा समय बीत जाने के बाद भी नया पुल तैयार नहीं हो पाया हैं। पुल वर्ष 2007 में सीर खड्ड व सहयोगी खड्ड जबोठी खड्ड में आई भीषण बाढ़ से पुल बह गया था।

भांबला से जाहू बाजार के लिए एकमात्र सड़क इस पुल से होकर ही गुजरती थी। इस समस्या से निपटने के लिए विभाग ने वैली ब्रिज बना था लेकिन वह भी तीन चार वर्ष तक चला और वह भी खड्ड में आई बाढ़ की वजह से वह गया। जिसमें तीन लोग भी इसकी चपेट में आकर खड्‌ड के तेज बहाव में बह गए थे। उसके बाद प्रशासन ने खड्ड में पाइपें डालकर अस्थाई व्यवस्था कर देता है परंतु बरसात आने पर वह भी बंद कर दी जाती है।

समस्या के स्थाई समाधान के लिए पूर्व सरकार के कार्यकाल में नय पुल बनाने के लिए लोनिवि प्रक्रिया तो शुरू की है लेकिन उसके बाद भी पुल का कार्य शुरू नहीं हो पा रहा है। लोनिवि की ओर से क्षतिग्रस्त हुए पुल के स्थान पर लगभग 4 करोड़ से नया पुल बनाने की योजना तैयारी की गई है। जिसका कार्य कॉन्ट्रेक्टर को आबंटित भी हो चुका है। वर्ष 2017 पुल का कार्य शुरू करने का बोर्ड भी प्रस्तावित स्थान पर लगा दिया गया है, लेकिन उसके बाद भी कोई कार्य नहीं हो पा रहा है। न ही ठेकेदार का कोई अता-पता है। जिससे यहां के व्यापारी वर्ग के साथ-साथ स्थानीय लोगों में भी रोष है।

क्षेत्र के व्यापारियों व स्थानीय लोागों ने सरकाघाट के विधायक कर्नल इंद्रसिंह ठाकुर व भोरंज की विधायिका कमलेश कुमारी से मांग की है कि वह स्वयं इस मसले पर हस्तक्षेप करें पुल का निर्माण कार्य शुरू करवाए, ताकि दोनों जिलों के लोगों को वर्षों से चली आ रही इस समस्या से छुटकारा मिल पाए। विभाग व ठेकेदार को निर्देश दिए जाएं जल्द से जल्द पुल तैयार किया जाए। विभाग की ओर से जनवरी 2019 में पुल का कार्य पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित है। लोगों को यह भी कहना है कि एक दो माह बाद बरसात आने वाली है, बरसात में कार्य नहीं हो पाएगा। विधायक कर्नल इंद्रसिंह का इस मामले को लेकर कहना है कि जाहू भांबला ब्रिज दोनों जिलों के लिए अति महत्वपूर्ण है। इसके बंद पड़े निर्माण को शीघ्र शुरू करवाने को लेकर वह अधिकारियों से बात करेंगे ताकि पुल का कार्य शीघ्र अति शीघ्र शुरू किया जा सके।

सरकाघाट : प्रस्तावित साईट जहां पर सीर खड्‌ड पर पुल बनना है।

क्षेत्र का व्यापार हो रहा है चौपट

व्यापार मंडल के अध्यक्ष सूरत सिंह चौहान, सुरेश शर्मा, मनु शर्मा, कुलदीप सोनी, सोनी चांगरा, गोल्डी, दीनानाथ, विजय कुमार, मस्त राम इंदौरिया, कुलदीप सोनी, जगदीश चंद, डाॅ. नितीश पाल इत्यादि का कहना है कि जाहू भांबला पुल नहीं बन पाने के कारण जाहू बाजार में कारोबार करने वाले व्यापारियों को कारोबार प्रभावित हो रहा है। ट्रैफिक के शहर के बाहर बाईपास से के रास्ते कंवर्ट होने से लोग बाजार में कम ही रुकते है। पुल नहीं होने का खामियाजा बाजार में कार्य करने वाले व्यापारियों व स्थानीय लोगों को भुगतना पड़ रहा है। जिससे व्यापारियों व लोगों में आक्रोश बढ़ रहा है। जहां जाहू भांबला एकमात्र क्षेत्र ऐसा है जहां से 20 किलोमीटर की परिधि में रहने वाले लोगों का मुख्य बाजार यही है।

पुल का निर्माण कार्य पिछले 2 माह से बंद पड़ा है। ठेकेदार ने लेबर दूसरी साइट पर भेज दी हैं। इसी सप्ताह इस पुल के निर्माण को शुरू करवा दिया जाएगा। पुल जनवरी 2019 में तैयार करने को लेकर डेडलाइन जारी कर दी गई है। संतोष कटोच, एक्सईएन, लोनिवि, बड़सर।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hamirpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×